महिलाओं और बच्चियों को अपराधों के बारे में सजग रहने की जरूरत: सिविल जज

 | 
महिलाओं और बच्चियों को अपराधों के बारे मेंसजग रहने की जरूरत: सिविल जज
अवधनामा संवाददाता 

सहारनपुर। सिविज जज (जूनियर डिविजन) सुश्री हुमा ने कहा कि महिलाओं और बच्चियों के प्रति होने वाले अपराधों के बारे में सजग रहने की जरूरत है। उन्होंने महिलाओं एवं बालिकाओं केे हित में बनाये गये विभिन्न अधिनियमों व कानून के विषय में समय-समय पर जागरूकता अभियान चलाये जाए। जिससे महिलाओं की सुरक्षा एवं अधिकारों के प्रति जागरूक करते हुए जानकारी दी जा सकें। जागरूकता शिविर में महिलाओं को विभिन्न हेल्पलाइन यथा-1090 पुलिस हेल्प लाइन, 1098 चाइल्ड लाइन तथा 181- महिला हेल्पलाइन नम्बरों के विषय में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की गयी।

आजादी के 75 वें वर्ष में आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं राष्ट्रीय महिला आयोग के संयुक्त तत्वाधान में विकास भवन सभागार में महिला सशक्तिकरण के उद्देश्य की पूर्ति के लिए विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। विधिक जागरूकता शिविर में महिला थानाध्यक्ष श्रीमती मोनिका चौहान द्वारा महिलाओं व बालिकाओं को जागरूक करते हुए पुलिस विभाग द्वारा महिलाओं की सुरक्षा व सहायता के लिए संचालित योजनाओं के विषय में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की गयी। हिन्दू कन्या इण्टर कॉलेज की प्रचार्या श्रीमती कुदसिया अंजूम द्वारा जागरूकता शिविर को सम्बोधित करते हुए महिलाओं और बालिकों के अधिकारों के विषय में जानकारी प्रदान की गयी।

महिला शक्ति केन्द्र की जिला समन्वयक श्रीमती रूपा हरित द्वारा जागरूकता शिविर में प्रतिभाग करने वाली महिलाओं व बालिकाओं को सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं के विषय में जानकारी प्रदान करते हुए कोविड-19 से प्रभावित बालक एवं बालिकाओं को उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना(सामान्य), पति की मृत्यु के उपरान्त निराश्रित महिला पेंशन योजना, राली लक्ष्मी बाई महिला एवं बाल सम्मान कोष योजना, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं योजना, सखी-वन स्टॉप सेन्टर योजना, राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना, किसान सम्मान निधि योजना, आयुष्मान कार्ड, श्रम कार्ड, प्रधानमंत्री मातृ वन्दन योजना, प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना, आयुष्मान भारत योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना(ग्रामीण), मुख्यमंत्री आवास योजना आदि के विषय में जानकारी प्रदान की गयी।

जागरूकत शिविर में महिला कल्याण अधिकारी श्रीमती नेहा शर्मा, महिला शक्ति केन्द्र की जिला समन्वयक श्रीमती रोबिन सैनी, सामाजिक कार्यकर्ता जिला बाल संरक्षण इकाई विजय आनन्द, कनिष्ठ सहायक रामकमल, गौतम आदि उपस्थित रहे।इसके साथ ही प्रदेश में महिलाओं तथा बच्चों की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलम्बन के लिए मिशन शक्ति अभियान के ‘‘3‘‘ फेस के अन्तर्गत विकास खण्ड स्तर पर न्याय पंचायतवार ग्राम रसूलपुर खेड़ी(नकुड़), ग्राम घ्याना व ग्राम महमूदपुर(नागल), ग्राम फतेहपुर उर्फ सांपाल व देवबन्द, देहात(देवबन्द),ग्राम शहजादपुर(मुजफ्फराबाद), ग्राम कांकरकुई (बलियाखेड़ी) तथा ग्राम नानौता देहात(देहात) में स्वावलम्बन कैम्पों का आयोजन करते हुए सरकार द्वारा संचालित योजनाओं यथा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना(सामान्य), पति की मृत्युपरान्त निराश्रित महिला पेंशन योजना के आवेदन पत्र भरवाये गये।