जल संरक्षण आज की सबसे बड़ी आवश्यकता: नगरायुक्त

नगरायुक्त ने चकहरेटी में किया तालाब के जीर्णोद्धा का भूमि पूजन
 
 | 
जल संरक्षण आज की सबसे बड़ी आवश्यकता: नगरायुक्त

अवधनामा संवाददाता 

सहारनपुर। आईटीसी मिशन सुनहरा कल व पानी संस्थान के सहयोग से वार्ड 13 चकहरेटी में किये जा रहे तालाब के जीर्णोद्धार के लिए नगरायुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह ने क्षेत्रीय पार्षद प्रमोद चैधरी व आईटीसी मिशन सुनहरा कल और पानी संस्थान के सहयोगियों के साथ भूमि पूजन किया। भूमि पूजन के बाद तालाब की खुदाई का कार्य जेसीबी द्वारा शुरु किया गया।
वार्ड 13 चकहरेटी में सोमवार को खसरा नंबर 142 पर तीसरे तालाब के जीर्णोद्धार का कार्य शुरु किया गया। इससे पहले भी चकहरेटी में दो तालाबों का जीर्णोद्धार किया जा चुका है। जेसीबी द्वारा खुदाई का कार्य शुरु करने से पहले नगरायुक्त ज्ञानेंद सिंह व क्षेत्रीय पार्षद प्रमोद चैधरी ने भूमि पूजन किया। इस मौके पर आईटीसी के धनेश शर्मा, पानी संस्थान के शिवम मिश्रा, आदिल रशीद, अभिषेक सहगल, उमाकांत, कर्मवीर व कमल के अलावा वाटर यूजर ग्रुप के सुभाष आदि भी मौजूद रहे।
नगरायुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह ने करीब 0.5 एकड़ रकबे वाले तालाब के जीणोद्धार की शुरुआत करते हुए कहा कि इस तालाब के जीर्णोद्धार से चकहरेटी क्षेत्र जल संरक्षण की दृष्टि से एक समृद्ध क्षेत्र हो जायेगा। इससे पहले भी आईटीसी मिशन सुनहरा कल व पानी संस्थान के सहयोग से दो तालाबों का यहां न केवल जीर्णोद्धार किया गया है बल्कि उनका सौंदर्यीकरण भी कराया गया है। उन्होंने कहा कि नगर निगम महानगर के सभी तालाबों के जीर्णोद्धार और उनके सौंदर्यीकरण कराने का लक्ष्य लेकर काम कर रहा है। नगरायुक्त ने कहा कि पानी की एक एक बूंद कीमती है। जल संरक्षण आज की बड़ी आवश्यकता बन गयी है। लगातार नीचे जा रहे जल स्तर को ऊंचा उठाने के लिए आवश्यक है कि वर्षा के पानी का संरक्षण किया जाए और उसके लिए हमें अपने तालाबों व पोखरों को पुर्नजीवित करना होगा।