पंचायत भवन के निर्माण में पूर्व प्रधान के ऊपर ग्रामीणों ने धांधली का लगाया आरोप, जताया विरोध

 | 
पंचायत भवन के निर्माण में पूर्व प्रधान के ऊपर ग्रामीणों ने धांधली का लगाया आरोप, जताया विरोध

अवधनामा संवाददाता

दीदारगंज /आजमगढ़। फूलपुर विकासखंड के शेखवलिया मटियार गांव में रविवार को पंचायत भवन के निर्माण में धांधली को लेकर पंचायत भवन के लिए खोदे गए गड्ढे के पास ग्राम प्रधान सहित दर्जनों ग्रामीणों ने विरोध जताया। ग्राम प्रधान सहित दर्जनों ग्रामीणों सहित वर्तमान प्रधान रामसहाय चौहान का आरोप है कि पूर्व ग्राम प्रधान जलसा यादव के द्वारा ग्राम पंचायत चुनाव के पहले पंचायत भवन के लिए 2 लाख 88 हजार नौ सौ रुपए निकाल लिया गया है, किंतु पंचायत भवन के लिए सिर्फ गड्ढा खोदकर छोड़ दिया गया है । पूर्व में विरोध के बाद एडीपीआरओ द्वारा जांच की गई थी उसके बावजूद भी पंचायत भवन का निर्माण नहीं शुरू हुआ, पंचायत भवन के आडिट होने के बाद पूर्व ग्राम प्रधान प्रतिनिधि ओमप्रकाश यादव के द्वारा मनमानी तरीके से दो दिन पूर्व से पंचायत भवन के लिए ईंट, बालू, गिट्टी गिराया जा रहा है जबकि अब गांव के वर्तमान प्रधान रामसहाय चौहान है, जिसको लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है। ग्राम प्रधान रामसहाय चौहान ने बताया कि पूर्व प्रधान जलसा यादव के द्वारा पंचायत भवन निर्माण में धांधली की गई है, ऑडिट होने के पश्चात मेरे कार्यकाल में जबरदस्ती जांच से बचने के लिए ईट, बालू, आदि गिरवा रहे हैं जो कि न्यायोचित नहीं है। गांव में 3 पशु सेड का पैसा एक लाख पंद्रह हजार रुपए पूर्व प्रधान द्वारा निकाला गया है किंतु एक भी पशु शेड बनकर तैयार नहीं है, 228 व्यक्तिगत शौचालय में से 120 से ज्यादा नहीं बना है । ग्राम प्रधान द्वारा पूर्व ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत अधिकारी से एमबी बुक मांगने पर नहीं दिखाया जा रहा है, बी डी ओ फूलपुर को भी दो बार एमबी बुक दिखाने के लिए एप्लीकेशन दिया गया किंतु अभी तक एमबी बुक हम वर्तमान प्रधान को नहीं दिखाया गया। वर्तमान ग्राम प्रधान ने बताया कि पूर्व प्रधान जलसा व पूर्व ग्राम पंचायत अधिकारी चंद्रशेखर द्वारा घोटाला किया गया है जिसकी जांच अति आवश्यक है। की वहीं गांव के वर्तमान ग्राम पंचायत अधिकारी बृजेश ने बताया कि एमबी बुक सरकारी रिकॉर्ड है जिसको हमको किसी को देने का अधिकार नहीं है। पूर्व प्रधान प्रतिनिधि ओम प्रकाश यादव ने कहा कि सी डी ओ के आदेश पर मेरे द्वारा पंचायत भवन निर्माण अब कराया जा रहा है जिसके लिए सामग्री गिरवा रहे हैं। वही पंचायत भवन पशु टीन शेड व शौचालय में धांधली को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है। ग्राम प्रधान सहित ग्रामीणों ने जिलाधिकारी आजमगढ़ से धांधली की निष्पक्ष जांच करा कर कार्यवाही की मांग किया है। विरोध करने वालों में सौरभ चौहान, राजेश यादव, कमलेश यादव, अमित यादव, राम अवध, राम नयन, सचिन, पंकज, राम स्वारथ, राजधारी, अंकित, रविकांत, उपेंद्र सहित दर्जनों ग्रामीण थे।