इवीन के माध्यम से होगा वैक्सीन वेस्टेज कंट्रोल

कोल्डचेन हेंडलर्स को दिया गया प्रशिक्षण

 | 
इवीन के माध्यम से होगा वैक्सीन वेस्टेज कंट्रोल    

अवधनामा संवाददाता


देवरिया जिले में कोल्ड चेन प्रणाली को मजबूत बनाने के उद्देश्य से सीएमओ डॉ. आलोक पाण्डेय की अध्यक्षता में  कोल्डचेन हेंडलर्स को वैक्सीन एप 'इवीन' के नए वर्जन का प्रशिक्षण सीएमओ कार्यालय के धन्वंतरि सभागार में दिया गया।

इस मौके पर सीएमओ डॉ. आलोक पाण्डेय  ने बताया कि इवीन तकनीक को अमल में लाने का मुख्य उद्देश्य टीकाकरण सप्लाई चेन प्रणाली को मजबूत करना है। नियमित टीकाकरण कार्यक्रम भारत सरकार के राष्ट्रीय कार्यक्रमों में से एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। गर्भवती और शिशु का टीकाकरण उन्हें कई बिमारियों से मुक्त रखता है। टीकाकरण सभी का हक़ है।   जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. सुरेन्द्र सिंह ने कहा  नेशनल हेल्थ मिशन प्रोग्राम के अंतर्गत इलेक्ट्रानिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क ( इवीन ) इस तकनीक को लागू किया जा रहा है, जिसके जरिए जिले में वैक्सीन सप्लाई, उपलब्धता, वितरण और उपभोग की ऑनलाइन जानकारी रखी जा सकती है और इसको किसी भी समय ऑनलाइन देखा जा सकता है। इससे किसी को भी जानकारी हासिल करने में परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा, इसलिए इसकी ट्रेनिंग सभी को दी जा रही है।

इस मौके पर ट्रेनर राजीव रंजन  ने बताया कि इस ऑनलाइन वैक्सीनेशन एप के द्वारा टीकाकरण प्रोग्राम को और मजबूत किया जा सकेगा। उन्होंने बताया कि इसके साथ वैक्सीन के वितरण को सही ढंग से किया जा सकता है और वैक्सीन के खराब होने की आशंका भी कम हो जाएगी, क्योंकि इस तकनीक के जरिए वैक्सीन की वेस्टेज को कंट्रोल भी किया जा सकता है। इसलिए सभी को इसके बारे में संपूर्ण जानकारी होना चाहिए, जिससे टीकाकरण कार्य को बेहतर तरीके से संचालित किया जा सके । 

इस मौके पर अर्बन नोडल अधिकारी डॉ. बीपी सिंह, दिलीप राव, यूनिसेफ के डीएमसी गुलजार त्यागी, अभिषेक तिवारी, निशार खान, एआरओ राकेश चंद, डीए मुकेश मिश्रा सहित सभी कोल्डचेन हेंडलर्स मौजूद रहे।