सत्तर वर्षों के अधूरे सपने आज साकार हो रहे है : क्षेत्रीय सांसद

ब्याना नाला पुल बन जाने से आमजनता को ट्रैफिक जाम से निजात मिलेगी : रामरतन कुशवाहा

 | 
सत्तर वर्षों के अधूरे सपने आज साकार हो रहे है : क्षेत्रीय सांसद

अवधनामा संवाददाता 
 

ललितपुर। बहुप्रतीक्षित झांसी सागर रोड इलाइट चौराहे के पहले बयाना नाला पुल का शिलान्यास क्षेत्रीय सांसद अनुराग शर्मा, राज्यमंत्री मनोहरलाल, सदर विधायक रामरतन कुशवहाा, जिला पंचायत अध्यक्ष कैलाश नारायण, जिलाध्यक्ष राजकुमार जैन के द्वारा संपन्न हुआ। आवागमन में जनता को होने वाली परेशानी को दूर करने के लिए इस पुल के बनाये जाने की मांग लम्बे समय से की जा रही थी। लोकनिर्माण विभाग प्रांतीय खण्ड द्वारा आयोजित भूमि पूजन के लिए आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि क्षेत्रीय सांसद ने कहा जो विकास कार्य पिछले 70 वर्षों में कल्पना मात्र थे पर आज वो साकार हो गए है जिनमे केन बेतवा लिंक, एयरपोर्ट, मेडिकल कॉलेज, आयुष्मान हॉस्पिटल, जनपद में सड़कों का जल, हर घर पेयजल व्यवस्था आदि ऐसे कार्य है जो जनहितकारी है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे भाजपा जिलाध्यक्ष राजकुमार जैन ने कहा चहुँमुखी विकास के कार्य भाजपा के शासनकाल में ही सम्भव है। भाजपा उन विकास कार्यों को प्राथमिकता देती है जिनसे आमजन मानस की परेशानियों का समाधान हो। विशिष्ट अतिथि राज्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार ने जो विकास कार्य किये है वो अविस्मरणीय है। सदर विधायक रामरतन कुशवाहा ने कहा कि ब्याना नाला पुल की ऊंचाई 5 मीटर, चौड़ाई 12 मीटर और लंबाई 48 मीटर होगी और ये पुल शीघ्र ही बनकर तैयार हो जाएगा, जिससे आमजनता को ट्रैफिक जाम से निजात मिलेगी। मंच संचालन पीडब्ल्यूडी सहायक अभियंता इं.सुबोध कुमार ने किया। इस दौरान जिलाध्यक्ष राजकुमार जैन, राज्यमंत्री मनोहरलाल, सदर विधायक रामरतन कुशवाहा, जिला पंचायत अध्यक्ष कैलाश निरंजन, उपसभापति सहकारी बैंक श्रीकांत कुशवाहा, चन्द्रशेखर दुबे, बंशीधर श्रीवास, पार्षद अनुराग जैन शैलू, अजय, गौरव, देवेन्द्र, जिला मीडिया सह संयोजक सम्राट राजा एड., सन्दीप बुन्देला, दीपक जायसवाल, राजेश लिटौरिया, नगराध्यक्ष मनीष अग्रवाल, श्याम बिहारी कौशिक, अशोक रावत, धर्मेंद्र, सुरेंद्र रजक, अजय साइकिल, सुरेश कौंतेय, हाकिम सिंह, कन्हैया कुशवाहा, हरेन्द्र बुन्देला, देशपत कुशवाहा, दीपक मिश्रा, अनुराग कंचन, सोनू, दिनेश गोस्वामी, रमाकान्त तिवारी, नासिर मंसूरी, समित समैया, केपी राजा ननौरा, पुरषोत्तम कुशवाहा, डा.दीपक चौबे, राकेश त्रिवेदी, अर्चना, राखी ताम्रकार, रजनी अहिरवार, पार्वती खटीक, रामरती अहिरवार, रामकुमार नामदेव, बाबा कुरैशी आदि लोग मौजूद रहे।