पद्मावती के शौर्य वीरता व नारी शक्ति को नमन करते हुए 16000 दीपों से दीपदान करके श्रद्धांजलि अर्पित की गई

 | 
पद्मावती के शौर्य वीरता व नारी शक्ति को नमन करते हुए 16000 दीपों से दीपदान करके श्रद्धांजलि अर्पित की गई 

अवधनामा संवाददाता 

अयोध्या ‌(Ayodhya)। मां पद्मावती का 16000 वीरांगनाओं को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए मित्र मंच  प्रमुख शरद पाठक बाबा  के निर्देश पर अयोध्या में 16000 दीपों से  दीपदान करके श्रद्धांजलि अर्पित की गई । 26 अगस्त 2021 को बलिदान दिवस के रुप में मनाया गया।  अयोध्या में मित्र मंच के कार्यकर्ताओं द्वारा 16000 दीप  प्रज्वलित किए गए । इसी क्रम में  हिंदुस्तान के 15 राज्यों में और विश्व के कई देशों में मित्र मंच के कार्यकर्ताओं द्वारा मां पद्मावती व 16 हजार वीरांगनाओं को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।इस कार्यक्रम में  महंत वैदेही वल्लभ शरण  महाराज , अपना दल के वरिष्ठ नेता प्रमोद सिंह  वेद राजपाल  बतौर अतिथि उपस्थित रहे। मित्र मंच प्रमुख शरद पाठक बाबा  ने कहा कि विदेशी आक्रांताओं  द्वारा हिंदुस्तान की संस्कृति , इतिहास व सनातन धर्म को नष्ट करने का लगातार प्रयास किया गया था । इसी प्रकार 26 अगस्त 1303 में आक्रांता अलाउद्दीन खिलजी के द्वारा राजा रतन सिंह को धोखे से शहीद करने के बाद जब उसने अपनी कुदृष्टि मां पद्मावती पर डालने का प्रयास किया, तब मां पद्मावती ने 16000 वीरांगनाओं के साथ अपने सनातन संस्कृति व सतीत्व धर्म की रक्षा के लिए जोहर कर अपने प्राणों का बलिदान दे दिया था। ऐसी मातृशक्ति को हम नमन करते हैं। प्रमोद सिंह ने मां पद्मावती व  16000 वीरांगनाओं द्वारा धर्म की रक्षा के लिए किए गए जौहर का  गौरवशाली इतिहास बताया ।

मां पद्मावती के  विषय में बताया और कहा कि आज लोग जातीय  सम्मेलन करते हैं जबकि उन्हें हिंदू धर्म से संबंधित अपने पूर्वजों के बारे में उनके द्वारा किए गए बलिदान के बारे में आने वाली पीढ़ियों को अपने गौरवशाली इतिहास के बारे में जानकारी देना चाहिए जिससे कि वे अपने ऐतिहासिक तथ्यों व संस्कृति से परिचित हो सकें।इस कार्यक्रम का लक्ष्य मां पद्मावती के शौर्य व वीरता और नारी शक्ति को नमन करते हुए , हिन्दुओं को अपने गौरवशाली इतिहास से परिचय कराना था। अयोध्या में मुख्य कार्यक्रम स्थल सहित  गुप्तारघाट व नयाघाट  व  अन्य स्थानों पर भी दीपदान कर श्रद्धंजलि अर्पित की गई।

इस कार्यक्रम को संपन्न कराने में मित्र मंच प्रदेश प्रभारी राजा पाठक , युवा मित्र मंच प्रदेश अध्यक्ष यश पाठक, प्रदेश महासचिव विजय पांडेय जी ,प्रदेश उपाध्यक्ष शरद प्रताप सिंह , महिला मित्र मंच प्रदेश उपाध्यक्ष उपासना  काजल पाठक अनीता सिंह , रत्ना जायसवाल, श्यामा शर्मा, कंचन राठौर,नीरज कुमार सिंह , डब्बू सिंह , अनुभव तिवारी , यश मिश्रा , अवनीश मिश्रा  , उमंग पांडेय आदि ने अहम भूमिका निभाई।