समस्याओं को लेकर एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 1 से मिले व्यापारी

 | 
समस्याओं को लेकर एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 1 से मिले व्यापारी

अवधनामा संवाददाता

सहारनपुर। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल के प्रान्तीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष विमल विरमानी के नेतृत्व मंे एक प्रतिनिधि मण्डल कार्यवाहक एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 1 ललित मिश्रा से उनके कार्यालय मे मिला और उन्हें वाणिज्य कर आयुक्त को संबोधित 8 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा।

आज प्रतिनिधि मण्डल ने दिल्ली रोड स्थित वाणिज्य कर भवन मंे एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 1 ललित मिश्रा से भेंट की और वाणिज्य कर आयुक्त को संबोधित ज्ञापन में कहा कि विभाग व्यापारियों की समस्याओं का निदान करने के स्थान पर व्यापारी हेतु स्वयं समस्या बन चुका है। व्यापारियांे को रिफण्ड देने में देरी की जाती है तथा वैट अधिनियम के कर निर्धारण मंे भ्रष्टाचार का बोलबाला है और वैट अधिनियम की जीएसटी लागू होने से पूर्व 3 महीने के कर निर्धारण में व्यापारियांे को कोरोना काल में सुनवाई हेतु नोटिस दिये बगैर एक पक्षीय कार्रवाई की जा रही है। जिसमें व्यापारियांे से अवैध वसूली हो रही है और कर निर्धारण अधिनियमों का उल्लंघन कर व्यापारियों को रिफण्ड को वापिस नहीं किया जा रहा है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि कर निर्धारण में भारी भ्रष्टाचार तथा लाल फीताशाही की गोपनीय जांच कराने को कमेटी बनायी जायें। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि एसआईबी के छापो तथा व्यापारियों का बिल होने के बावजूद माल रोकने पर अधिकारियों का घेराव किया जायेगा। जिला महामंत्री अनित गर्ग ने कहा कि व्यापारियों की रिटेल ट्रांसपोर्ट द्वारा माल भेजने पर सचल दल अधिकारियों द्वारा अवैध वसूली की जाती है, जिसे बंद किया जाये। कार्यवाहक एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 1 लििलत मिश्रा ने व्यापारियों को आश्वस्त करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार फैलाने वाले अधिकारियांे की जांच करायी जायेगी तथा रिटेल माल का बिल होने के बावजूद नहीं रोका जायेगा और जो मामले उनके संज्ञान में लाये गये है, उनका निस्तारण कराया जायेगा। इस दौरान हर्ष डाबर, स.गुलमेहर सिंह, विनित विरमानी, नरेन्द्र गर्ग, शशांक भाटिया, मनोज चिटकारा, अनुप मित्तल, आशीष, रईस अहमद, प्रेम सैनी, आशु बावनिया, अनुज सेठी, प्रदीप ठाकुर, अमरदीप सिंघल आदि मौजूद रहे।