प्रदेश में अराजकता का माहौल है, जनता त्राहि-त्राहि कर रही – अवधेश प्रसाद

अवधनामा संवाददाता अयोध्या (Ayodhya)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद 24 अगस्त को किसानों की समस्याओं को लेकर मिल्कीपुर तहसील में धरना देंगें ।श्री प्रसाद ने आज प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए उसे हर मोर्चे पर विफल बताया ।श्री प्रसाद ने कहा कि महंगाई, छुट्टा जानवरों का प्रकोप, और
 | 

 प्रदेश में अराजकता का माहौल है, जनता त्राहि-त्राहि कर रही – अवधेश प्रसाद

अवधनामा संवाददाता

अयोध्या  (Ayodhya)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद 24 अगस्त को किसानों की समस्याओं को लेकर मिल्कीपुर तहसील में धरना देंगें ।श्री प्रसाद ने आज प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए उसे हर मोर्चे पर विफल बताया ।श्री प्रसाद ने कहा कि महंगाई, छुट्टा जानवरों का प्रकोप, और बेरोजगारी ने तो प्रदेश के किसानों नौजवानों और महिलाओं को बदहाली के कगार पर खड़ा कर दिया है। सिविल लाइन स्थित एक होटल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता अवधेश प्रसाद ने कहा आज प्रदेश में अराजकता का माहौल है, जनता त्राहि-त्राहि कर रही है, किसानों की हालत तो इतनी खराब है कि उन्हें ना तो अपनी उपज का मूल्य मिल रहा है और ना ही उन्हें उन छुट्टा जानवरों से छुटकारा ही मिल रहा है जो उनकी फसलों को दिन और रात चर रहे हैं ।श्री प्रसाद ने कहा कि किसान प्रदेश में पूरी तरह से बदहाली की कगार पर है, सरकार किसानों को उसके हाल पर छोड़ कर लोगों को एक दूसरे के साथ लड़ाने में जुटी हुई है। श्री प्रसाद ने कहा कि गांव में छुट्टा जानवरों की लंबी फौज किसानों की फसल को इस कदर बर्बाद कर रही है कि किसान खेती किसानी के बारे में सोचने से भी अब घबरा रहा है ,देश के लिए यह स्थिति ठीक नहीं है कि उसका अन्नदाता खेत से दूर रहने की बात भी सोचे। उन्होंने बताया कि इन सभी समस्याओं को लेकर 24 अगस्त को मिल्कीपुर की तहसील पर समाजवादी पार्टी एक धरना प्रदर्शन का आयोजन करेगी जिसमें वह प्रदेश सरकार के खिलाफ लोगों को जागरुक करते हुए इस सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान करेगी ।पत्रकार वार्ता के दौरान सपा जिलाध्यक्ष गंगासिंह यादव , प्रवक्ता चौधरी बलराम यादव , माखनलाल यादव , महिला सभा जिला अध्यक्ष सुनीता श्रीवास्तव बसन्त लाल वर्मा , शशांक शुक्ला आकिब खान आदि मौजूद थे ।