दलित समाज का भला सिर्फ और सिर्फ समाजवादी पार्टी में : पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद

 | 
 दलित समाज का भला सिर्फ और सिर्फ समाजवादी पार्टी में : पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद

अवधनामा संवाददाता 

अयोध्या । दलित समाज का भला सिर्फ और सिर्फ समाजवादी पार्टी में है यही वजह है कि बसपा के कैडर के नेता तक अब समाजवादी में शामिल होकर सपा मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को फिर से मुख्यमंत्री बनाने जा रहे हैं। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद ने यह भी कहा कि दलित समाज के लिए जितना कार्य समाजवादी पार्टी ने अपने कार्यकाल में किया है उतना आज तक किसी भी सरकार ने नहीं किया। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में जब प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी तो इसका सबसे ज्यादा लाभ दलित समाज को ही मिलने वाला है । रसूलाबाद क्षेत्र के बैसिंह बगिया में आयोजित वीरांगना उदा देवी पासी के शौर्य दिवस व वीरांगना झलकारी बाई कोरी के जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए श्री प्रसाद ने कहा कि दलित समाज ने समाज के उत्थान के लिए जो भी कार्य किए हैं उसे भुलाया नहीं जा सकता, वह समाजवादी पार्टी ही थी जिसने दलित समाज के महत्व को समझते हुए अपनी सरकार में सबसे ज्यादा लाभ इसी बिरादरी को दिया। उन्होंने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में दलित समाज एकजुट होकर समाजवादी पार्टी के साथ आएगा और प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने में अपना योगदान देगा। कार्यक्रम के संयोजक पूर्व मंत्री तेज नारायण पाण्डेय पवन ने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार में बिना किसी भेदभाव के समाज के सभी तबकों के लिए काम किया है। जनता भाजपा सरकार से पूरी तरह से त्रस्त है। 2022 के चुनाव में अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाकर उ०प्र० को उत्तम प्रदेश बनाने का काम करेगी। भाजपा सरकार केवल सपा सरकार में किये गये कायों का फीता काट रही है। इस सरकार में मंहगाई चरम सीमा पर है अपराध पर कोई नियंत्रण नही है। जब सपा की सरकार बनेगी तो दलितों के लिए सबसे ज्यादा काम किया और करेंगे। सपा जिला प्रवक्ता चौधरी बलराम यादव ने बताया कि आज के कार्यक्रम में दलित समाज ने जिस तरह अपनी भागीदारी दर्ज करायी है उससे यह साबित होता है कि जिस तरह अन्य पार्टियों में दलितों‚ पिछडों को सिर्फ छला गया है और उनके वोट पर सत्ता हासिल की है लेकिन अब दलित समाज अखिलेश यादव में अपनी आस्था व्यक्त कर समाजवादी पार्टी को मजबूत करेगी।