समृद्धि परियोजना ने ठाना है, गाँवों में आजीविका के संसाधन बढ़ाना है।

आजीविका सम्वर्धन हेतु छोटी सी पहल।

 | 
समृद्धि परियोजना ने ठाना है, गाँवों में आजीविका के संसाधन बढ़ाना है।

  अवधनामा संवाददाता 

ललितपुर।  जनपद झाँसी के विकास-खण्ड बबीना में एक्शन एड, लखनऊ द्वारा संचालित समृद्धि परियोजना (सहयोग लकासिया फाउण्डेशन) द्वारा चयनित गांव दुर्गापुर, सलैयन, रमपुरा, कोटी, बैदौरा, सरवां, खजराहा खुर्द और खजराहा बुजुर्ग के कुल 38 महिला लाभार्थियों को 1900 क्रोयलर प्रजाति मुर्गी के बच्चे, प्रत्येक लाभार्थी 50 बच्चे, जिसमें 30 मादा तथा 20 नर बच्चे, भूमिहीन, अल्प भूमिहीन एवं लघु सीमांत कृषकों को अजीविका सम्वर्धन हेतु निशुल्क वितरण किये गये। क्रोयलर प्रजाति अण्डे और माँस दोनों के लिये ही हमारे बुन्देलखण्ड में फायदेमन्द है। मुर्गी के बच्चे वितरण के समय दुर्गापुर ग्राम प्रधान श्री देवी दयाल राजपूत, सरवां ग्राम प्रधान श्री अशोक राजपूत, खजराहा बुजुर्ग प्रधान पति श्री नरेन्द्र सिंह राजपूत और गुढ़ा, रमपुरा प्रधान पति उमेश अहिरवार तथा समृद्धि परियोजना जिला इन्वेस्टिगटेर मुकेश कुमार, असिस्टेंट रिसर्चर संजय कुमार फील्ड ट्रेनर रागवेन्द्र, प्रमोद और सुभाष उपस्थित रहे।