शांति के साथ निपटा कर्बला भूमि विवाद, दफन हुए ताजिये

 | 
शांति के साथ निपटा कर्बला भूमि विवाद, दफन हुए ताजिये

अवधनामा संवाददाता

सुबेहा बाराबंकी। नगर पंचायत सुबेहा में विगत एक माह से चल रहे कर्बला जमीन विवाद का पटाक्षेप हो गया। शिया धर्मगुरु मौलाना जव्वाद अली की मौजूदगी में इस जमीन का विवाद निपट गया और निपटारे के बाद लोगों ने अपने ताजिये यहां दफन किये। 

बता दें कि करीब एक माह से चल रहे कर्बला भूमि विवाद का निस्तारण आज ताजिया एक्शन कमेटी के अध्यक्ष शमील शमशी 

व भूमि क्रय करने वाले के बीच आपसी समझौते के बाद कर दिया गया। इस मौके पर विशेष रूप से शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद मौजूद रहे। विवाद खत्म होने के बाद अब ताजियेदार इस भूमि पर ही अपनी ताजिया दफन कर सकेंगे। गौरतलब हो कि कर्बला भूमि पर बेजा दावेदारी का विवाद होने के चलते ताजियेदार इस भूमि पर अपनी ताजिये दसवीं के दिन नही दफन कर पाए थे और घर पर ही रखे हुए थे। ताजिया एक्शन कमेटी के अध्यक्ष शमील शमसी ने मामले का संज्ञान लेते हुए उक्त भूमि पर ही ताजिया दफन करवाने का फैसला लिया। हरकत में आये प्रशाशन ने आनन फानन में मामले को गंभीरता से लेकर उक्त विवादित भूमि का दोनो पक्षो के बीच आपसी समझौता करवा दिया। 

एक्शन कमेटी के अध्यक्ष शमील शमसी ने बताया कि ताजियेदार व भूमि क्रय स्वामियों के बीच स्थायी समझौता हुआ है। उक्त भूमि का कुछ हिस्सा ताजियेदारो को दे दिया गया है। जिसमे ताजियेदार अपनी ताजिये दफन कर सकेंगे। इस मौके एदीएम एडिशनल एसपी उप जिलाधिकारी के अलावा भारी संख्या में पुलिस बल मुस्तैद रहा।