ग्राम सभा की भूमि पर प्रधान वह लेखपाल का कब्जा

भारी पुलिस बल के मौजूदगी में कराया जा रहा है भूमि का चहारदीवारी 

 | 
ग्राम सभा की भूमि पर प्रधान वह लेखपाल का कब्जा

अवधनामा संवाददाता


कुशीनगर। तमकुहीराज तहसील क्षेत्र के ग्राम अमवा महंथ में नवीन परती के नाम से दर्ज भूमि जिसमें प्राथमिक विद्यालय आंगनबाड़ी केंद्र संचालित है का ग्राम प्रधान व हल्का लेखपाल द्वारा बंदरबांट किया जा रहा है, ऐसा आरोप लगाते हुए गांव निवासी सत्य प्रकाश यादव ने तहसीलदार को प्रार्थना पत्र सौंपकर किसी सक्षम अधिकारी से जांच कराकर न्याय की गुहार लगाई है।लेकिन नौ दिनों तक कोई उचित करवाई न की जा सकी तथा ग्राम प्रधान द्वारा आज भारी पुलिस बल की मौजूदगी में प्राथमिक विद्यालय पर चाहरदीवारी का निर्माण भी कराया जा रहा है।

दिए गए प्रार्थना पत्र में सत्य प्रकाश यादव ने लिखा है कि ग्राम अमवा महंथ में स्थित प्राथमिक विद्यालय व आंगनबाड़ी केंद्र गाटा संख्या 270/0.259 हेक्टेयर भूमि में पूर्व से यानी कि चकबंदी से ही चलता है।तथा प्राथमिक विद्यालय मात्र उक्त ग्राम पंचायत में एक ही है।तथा वर्तमान समय में ग्राम प्रधान द्वारा सरकार से जो चहार दिवारी का पैसा मिला है उक्त भूमि का पैमाइश भी हल्का लेखपाल के द्वारा दिनांक 15/ 11/2021 को ग्राम सभा के लोगों व सभी बगल के काश्तकारों की उपस्थिति में पैमाइश हुआ व सभी कोने खूँटा लगा दिया गया व उपस्थित लोगों से हस्ताक्षर निशान भी स्पाट मेमो पर हल्का लेखपाल द्वारा कराया गया व लेखपाल द्वारा एक रिपोर्ट भी दिया गया। इसके बाद भी ग्राम प्रधान व हल्का लेखपाल द्वारा पूरब दिशा के काश्तकारों को लाभ पहुंचाने के लिए विवादित भूमि को बंदरबांट करते हुए पूरब दिशा में चौड़ाई लगभग 20 कड़ी से ऊपर छोड़ कर चहारदीवारी का निर्माण कराया जा रहा है। उक्त काश्तकार रामाकांत व दुलम पुत्रगण बुद्धिराम व हृदयानंद व प्रयाग पुत्रगण भागीरथी को लाभ पहुंचाने के लिए ग्राम प्रधान व हल्का लेखपाल द्वारा ग्राम सभा की क्षति किया जा रहा है।इसी तरह प्राथमिक विद्यालय की भूमि में दक्षिण दिशा में अवैध रूप से गायत्री देवी पत्नी प्रेम द्वारा अतिक्रमण किया गया जो कि नहीं हटाया जा रहा है तथा उक्त लोगों में प्राथमिक विद्यालय की भूमिका बटवारा किया जा रहा है।जो पूर्ण रूप से हल्का लेखपाल व ग्राम प्रधान ही दोषी हैं। यदि आधी अधूरी भूमि पर चहारदीवारी का निर्माण कराने में सफल हो गए तो ग्राम सभा व प्राथमिक विद्यालय की अपूर्णीय क्षति होगी जिसका भरपाया भी संभव नहीं है।साथ ही यदि इस प्रकार का कार्य ग्राम सभा के द्वारा किया जा रहा है तो इसका रक्षम कौन है।किसी उच्चाधिकारी से जांच कराकर प्राथमिक विद्यालय की भूमि से अवैध अतिक्रमण हटाते हुए दोषी हल्का लेखपाल के द्वारा किया गया पैमाइश दिनांक 15/11/21 व रिपोर्ट पैमाइश में उपस्थित लोगों के बयान को संज्ञान लेते हुए दिनांक 29/12/2021 को हल्का लेखपाल द्वारा जनसुनवाई पोर्टल पर बिना अतिक्रमण हटवाए हुए रिपोर्ट बिना गवाह के ही लगा दिया गया, इन सब का संज्ञान लेते हुए उक्त भूमि से अतिक्रमण हटाते हुए दिनांक 15/11/2021 के पैमाइश के आधार पर चहारदीवारी निर्माण कराया जाना आवश्यक एवं न्याय संगत है।