पूरे गैंग समेत जेल भेजा गया सिपाही, एसपी की सख्त कार्रवाई बनी नजीर

 | 
पूरे गैंग समेत जेल भेजा गया सिपाही, एसपी की सख्त कार्रवाई बनी नजीर

अवधनामा संवाददाता

बाराबंकी। खाकी वर्दी पर बदनुमा दाग लगाने वाला सिपाही धर्मेंद्र आखिरकार अपने पूरे गैंग के साथ जेल की सींखचों के पीछे पहुंच गया। महिलाओं से गलत काम कराने के साथ ही मुक़दमे की धमकी देकर अवैध वसूली करते आ रहे इस सिपाही को अनुशासन हीनता की सख्त सजा मिल गई। 

पूरा प्रकरण कुछ यूं है कि अरविन्द कुमार वर्मा पुत्र बलदेव वर्मा निवासी सेहगो पश्चिम थाना बछरावां जनपद रायबरेली ने थाना सतरिख पर सूचना दी कि वह अपने मामा अनिल वर्मा निवासी गुलरिहा थाना कोठी के यहां आता रहता है। 14 सितंबर को एक युवती से उसकी फोन पर बात हुई जिसने उससे मिलने के लिये उसे भानमऊ चौराहे पर बुलाया। वहां पहुंचने पर उस युवती द्वारा उसे एकान्त स्थान पर चलने को कहा गया, जहां पर पूर्व से एक महिला मौजूद थी। उसने उसकी पर्स निकाल ली एवं फोन करके एक पुलिसकर्मी व एक अन्य व्यक्ति को बुला लिया। पुलिसकर्मी द्वारा उसे और उसके मामा को आपराधिक मुकदमों में फंसाने की धमकी देकर उससे धन उगाही की। इस सूचना पर थाना सतरिख पर आरक्षी धर्मेन्द्र यादव, श्रवण कुमार, पूजा, सुनीता देवी उर्फ पंडिताईन के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया। थाना सतरिख पुलिस टीम ने साक्ष्यों के आधार पर आरक्षी धर्मेन्द्र कुमार यादव पुत्र रमेश चन्द्र निवासी पपरावन थाना बरसठी जनपद जौनपुर, हाल पता नियुक्ति पुलिस लाइन्स बाराबंकी, श्रवण कुमार यादव पुत्र सहजराम निवासी कोटवा, पूजा रावत पत्नी नन्हा रावत निवासी सराय मोहद्दीनपुर, सुनीता देवी उर्फ पंडिताईन पत्नी स्व0 दिनेश निवासी दौलतपुर सभी निवासी थाना कोठी को गिरफ्तार कर सींखचों के पीछे भेज दिया गया।