केन्द्रीय मंत्री को शिक्षक व कर्मचारियों ने सौंपा ज्ञापन

पुरानी पेंशन बहाली व अन्य मांगों के समर्थन में अनुप्रिया पटेल से मिले 

 | 
 केन्द्रीय मंत्री को शिक्षक व कर्मचारियों ने सौंपा ज्ञापन

अवधनामा संवाददाता 

अयोध्या। अपना दल एस की राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री भारत सरकार अनुप्रिया पटेल के आगमन पर संगठन की तरफ से जिला अध्यक्ष श्याम वर्मा ने स्वागत किया। इस दौरान शिक्षकों - कर्मचारियों की मुख्य माँग पुरानी पेंशन बहाली और निजीकरण समाप्त को लेकर प्रांतीय संयोजक पंकज यादव के नेतृत्व में ज्ञापन दिया गया।  साथ ही इस गम्भीर विषय पर प्रधानमंत्री भारत सरकार एवं मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश से इस विषय पर वार्ता कर शिक्षकों कर्मचारियों का पक्ष रखने का निवेदन किया गया। उन्होंने इस मुद्दे को पार्टी के चुनावी घोषणा पत्र  में शामिल करने का आग्रह भी किया। पंकज यादव ने बताया कि केंद्र में एक जनवरी 2004 के बाद और उत्तर प्रदेश में एक अप्रैल 2005 के बाद सरकार ने शिक्षकों कर्मचारियों की पुरानी पेंशन को बंद कर दिया और नई पेंशन व्यवस्था को लागू कर दिया। बताया कि नई पेंशन व्यवस्था पूरी तरह से बाजार व शेयर मार्केट पर आधारित है जो न तो शिक्षकों के हित में है और न ही सरकार के ही हित में है। वहीं पुरानी पेंशन व्यवस्था में जब शिक्षक रिटायर होता था तो उसे जीपीएफ ग्रेजुटीं एवं 20 से 25 लाख रुपए, उस समय के वेतन का 50% पेंशन के रूप में मिलती थी, जिससे उसका 60 वर्ष के बाद का जीवन सुगमता से व्यतीत होता था। लेकिन एनपीएस के आने से कर्मचारियों का जीवन अंधकार में हो गया है।एनपीएस के दायरे में आये शिक्षक कर्मचारी 2014 में रिटायर हुए तो उन्हें 2  से 3 हजार पेंशन बन रही थी जो आज के समय मे किसी मतलब की नही है, साथ ही प्रदेश संयोजक पंकज यादव ने बताया की यदि सरकार ने हमारी बातो का संज्ञान न लिया तो 21 नवम्बर को लखनऊ के इको गार्डन में दो लाख शिक्षक कर्मचारी धरना देने जा रहे है, और उसके बाद पुनः एस-4 के बैनर तले 25 नवम्बर को प्रदेश के प्रत्येक जनपद में धरना, पद यात्रा एवं जिलाधिकारी को ज्ञापन देने का कार्यक्रम आयोजित है। ज्ञापन देने में पंकज यादव प्रदेश संयोजक पीएसपीएसए, देवेश पांडेय प्रदेश संघटन मंत्री, श्याम जी वर्मा जिला अध्यक्ष दयाशंकर भारती, जिला संघटन मंत्री, अवधेश वर्मा मण्डल कोषाध्यक्ष शामिल रहें।