आपराधिक इतिहास न्यायालय में करें प्रस्तुत: एसपी

अपराधियों की जमानत पर लगाया जाए अंकुश 
 
 | 
आपराधिक इतिहास न्यायालय में करें प्रस्तुत: एसपी 

अवधनामा संवाददाता 
 

बांदा। पुलिस कप्तान अभिनंदन ने अपराध समीक्षा बैठक में निर्देशित किया कि विवेचनाओं का निस्तारण समय से किया जाए। साक्ष्यों का संकलन कर विवेचना अपराधियों का आपराधिक इतिहास न्यायालय में प्रस्तुत कर अपराधियों की जमानत पर अंकुश लगाया जाए। सभी थाना प्रभारी थाने के मास्टर रजिस्टर का खुद अवलोकन करें। एसपी ने जिले के क्षेत्राधिकारियों एवं थाना प्रभारियों के साथ अपराध समीक्षा बैठक की। एसपी ने विवेचनाओं का निस्तारण करने के साथ-साथ साक्ष्यों का संकलन कर विवेचना अपराधियों का अपराधिक इतिहास न्यायालय में प्रस्तुत कर अपराधियों की जमानत पर अंकुश लगाए जाने संबंधी निर्देश दिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि सक्रिय अपराधियों पर कड़ी निगाह रखी जाए। जमीनी विवादों का राजस्व टीम के साथ मिलकर निस्तारण करें। मास्टर रजिस्टर पर संपूर्ण अभिलेखों का अंकन करें, साथ ही न्यायालय में पैरवी करने वाले पैरोकारों के अभिलेखों को थाना प्रभारी स्वयं अवलोकन करें और प्रभावी पैरवी कर अपराधियों को सजा दिलवाएं। एसपी ने कहा कि थानों पर खड़े वाहनों का निस्तारण पूर्व की तरह अभियान चलाकर करेंगे साथ ही थाने पर मौजूद निष्प्रयोज्य सामग्री को थाना परिसर एवं कार्यालय से हटाएंगे। इसके अलावा साफ-सफाई उच्च कोटि की रखकर आगंतुकों के साथ सद्व्यवहार करें। आगंतुकों के बैठने के साथ-साथ उनके पानी पीने की भी व्यवस्था करें। क्राइम बैठक से पूर्व पुलिस कप्तान अभिनंदन ने पुलिस कर्मियों के साथ सैनिक सम्मेलन किया। सैनिक सम्मेलन में कर्मचारियों की समस्याओं को सुना गया तथा निर्देशित किया गया कि बीट स्तर पर नियुक्त पुलिस कर्मी अपनी-अपनी बीट के ग्रामों में सतर्क दृष्टि रखें। साथ ही अपनी बीट बुक को संभ्रांत व्यक्तियों एवं महत्वपूर्ण मोबाइल नंबरों को कंप्लीट रखेंगे। सभी बीट कर्मचारियों के मोबाइल पर बीट प्रहरी मोबाइल एप होना चाहिए तथा बदलते समय के साथ उसे अपडेट रखें। इसके अलावा एसपी ने कहा कि महिला बीट आरक्षियों का महिला संबंधी अपराधों की रोकथाम हेतु महत्वपूर्ण योगदान रहता है, इसलिए सभी अपने कर्तव्यों का निर्वहन निष्ठापूर्वक करें। इस मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक लक्ष्मी निवास मिश्र, क्षेत्राधिकारी सदर सत्यप्रकाश शर्मा, सिटी राकेश कुमार सिंह, नरैनी नितिन कुमार, अतर्रा आनंद कुमार पांडेय, बबेरू सियाराम सहित समस्त थाना एवं कोतवाली प्रभारी मौजूद रहे।