कोरोना की एहतियाती डोज लगवा कर कोरोना संक्रमण की गति रोके

आज आये 22 कोरोना संक्रमित, जनपद में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या हुई 97

 | 
कोरोना की एहतियाती डोज लगवा कर कोरोना संक्रमण की गति रोके

अवधनामा संवाददाता 

ललितपुर। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अजय भाले ने बताया कि उन्होंने केंद्र पर जाकर  एहतियाती टीका लगवाया है। उन्होंने बताया कि इस समय कोरोना ओमीक्रान का रूप लेकर देश के विभिन्न शहरों में तेजी से पैर पसार रहा हैऐसे में सावधानी रखनी जरूरी है|  पिछले कोरोना काल में टीका लगवाकर सुरक्षित रहा था। इसे ध्यान में रखकर फ्रंट लाइन वर्कर होने के नाते एहतियाती टीका लगवाया है। जो भी टीका की पात्रता रखते हैंवह सभी निशुल्क योजना का लाभ उठाए।

शहर के नोडल अधिकारी व नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ राजेश भारती ने बताया कि जिनके भी दूसरे टीके लगने के 9 माह पूरे हो चुके हैं, ऐसे लोग टीकाकरण केंद्र पहुंचकर के एहतियाती डोज लेकर कोरोना संक्रमण से अपने को सुरक्षित बनाएं। उन्होंने बताया कि नगर क्षेत्र में मेरे द्वारा कई लोगों को टीकाकरण केंद्र पर भेजा है। 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ जीपी शुक्ला ने बताया कि  बीमारी से ग्रसित रहे 60 साल के ऊपर वाले बुजुर्गों को एहतियाती डोज देने की शुरुआत ही गई है। उन्होंने बताया कि ओमिक्रान के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए  बीमार रहे बुजुर्गों को एहतियाती डोज जरूरी है ताकि वह सुरक्षित रहें। जिले के ऐसे बुजुर्ग जिनका इसके साथ जिन्हे पहला टीका लग चुका है और दूसरे टीके लगने का समय पूरा हो रहा है तो दूसरा टीका लगवाएं। 15 से 17 वर्ष के बच्चों का भी टीकाकरण चालू है। बच्चे टीकाकरण केंद्र पहुंचकर टीका जरूर लगवाए जिससे संक्रमण का खतरा कम हो सके ।

एमडी कम्युनिटी मेडिसन डॉ॰ सौरभ सक्सेना का कहना है  

बुजुर्गों को एहतियाती डोज देने की शुरुआत हुई हैबुजुर्गों को पहले जो वैक्सीन दी गयी हैउसी के आधार पर कोवीशील्ड और कोवैक्सिन टीका लगाया जा रहा है । टीकाकरण में तेजी लाने के लिए 238 टीमें काम कर रही हैं। टीमों की संख्या बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। जिले में 9,19,156 के सापेक्ष 785888 को प्रथम डोज व 498600  को द्वितीय डोज लगाई जा चुकी है। वही 101 फ्रंट लाइन वर्कर को एहतियाती डोज लगाई गई है।

 

फोटो : पी 003 एहतियाती डोज लगवाते डॉ भाले ACMO