मिशन शिक्षण संवाद की प्रदेश स्तरीय कार्यशाला का शुभारंभ.

प्रयाग संगीत समिति के ऑडिटोरियम हॉल में बेसिक शिक्षा विभाग व मिशन शिक्षण संवाद प्रयागराज टीम द्वारा आयोजित

 | 
मिशन शिक्षण संवाद की प्रदेश स्तरीय कार्यशाला का शुभारंभ.

अवधनामा संवाददाता 


प्रयागराज: संगम की पावन धरा पर प्रयागराज के प्रयाग संगीत समिति के ऑडिटोरियम हॉल में कार्यक्रम के संरक्षक व प्रयागराज के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण तिवारी के मार्गदर्शन में " दो दिवसीय राज्य स्तरीय शैक्षिक समागम " का आयोजन " मिशन शिक्षण संवाद " के तत्वावधान में विगत 24 दिसम्बर 2021 को भव्य शुभारंभ के साथ संपन्न हुआ। परिषदीय स्कूलों में विद्यार्थियों के शिक्षण में किस तरह के नवाचार अपनाए जाए ताकि बच्चों को आसान तरीके से कठिन और बोझिल विषयों को आसानी से समझा जा सकें। इसके लिए प्रयागराज में आयोजित प्रदेश स्तरीय शिक्षक समागम में पूरे प्रदेश के समस्त जनपदों से बेहतरीन शैक्षिक कार्य एवं बेसिक शिक्षा में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 270 शिक्षकों को आमंत्रित किया गया था। समागम में विभिन्न जनपदों से आये हुए शिक्षक साथियों ने अपने-अपने जनपद के बेसिक शिक्षा में हो रहे नित नए प्रयासों का प्रस्तुतिकरण किया। कार्यक्रम में आये हुए समस्त सम्मानित शिक्षक साथियों का मिशन शिक्षण संवाद प्रयागराज टीम के द्वारा कार्यशाला प्रारम्भ के प्रवेश द्वार पर ही तिलक व टीका के साथ पुष्पवर्षा करते हुए बड़ी गर्मजोशी के साथ स्वागत सत्कार किया गया तथा सभी प्रतिभागियों का पंजीकरण कर स्टेशनरी प्रदान की गई। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि सांसद केसरी देवी पटेल के आगमन पर स्काउट गाइड की छात्राओं द्वारा बैंड के साथ बहुत ही भव्य स्वागत किया गया। तत्पश्चात कार्यक्रम के संरक्षक व प्रयागराज के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण तिवारी ने मुख्य अतिथि का बैज अलंकरण एवं पुष्पगुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया। मुख्य अतिथि ने माँ सरस्वती जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की। विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रयागराज के मुख्य विकास अधिकारी शीपू गिरि के द्वारा बहुत ही ओजस्वी वक्तव्य सुनने का सुअवसर शिक्षकों को प्राप्त हुआ। सीडीओ द्वारा टीएलएम स्टॉल्स और मिशन शिक्षण संवाद के विभिन्न कार्यों को बहुत ही बारीकी से अवलोकन किया गया और कार्यक्रम के पूरी टीम की सराहना की गयी। उक्त प्रदेश स्तरीय शिक्षक समागम कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में शहर उत्तरी के विधायक ई.हर्षवर्धन बाजपेयी, बनारस के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राकेश सिंह, जौनपुर के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी गोरखनाथ पटेल तथा डायट प्राचार्य प्रयागराज प्रदीप कुमार पांडेय का बीएसए प्रयागराज ने पुष्पगुच्छ भेंटकर स्वागत किया। आतिथ्य स्वागत के पश्चात भव्य गंगा आरती के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। आरती की भव्यता से सम्पूर्ण ऑडिटोरियम मंत्रमुग्ध हो गया। गंगा आरती के बाद मंच संचालक साकेत बिहारी शुक्ल के द्वारा मंचासीन समस्त अधिकारीगणों व जनप्रतिनिधियों को बारी-बारी से मंच पर आमन्त्रित किया गया। मंच पर आकर सभी ने आये हुए समस्त शिक्षक साथियों को अपने आशीर्वचनों से अभिसिंचित करते हुए कार्यशाला की भूरि-भूरि प्रशंसा की। तत्पश्चात मुख्य कॉरिडोर में लगे टीएलएम स्टॉल्स का अवलोकन एवं प्रवेश द्वार तक लगे मिशन शिक्षण संवाद के विभिन्न आयामों के अन्तर्गत किए जा रहे प्रयासों का भी अवलोकन किया गया। कार्यक्रम में आये हुए समस्त सम्मानित महानुभावों द्वारा बेसिक शिक्षा के उत्थान एवं शिक्षक के उत्थान की दिशा में मिशन शिक्षण संवाद के द्वारा किये जा रहे प्रयासों की मुक्तकण्ठ से सराहना की गई। कार्यक्रम में आये हुए समस्त अतिथियों के आशीर्वचनों के उपरान्त प्रदेश के विभिन्न जनपदों से आये हुए शिक्षक साथियों द्वारा अपने-अपने जनपदों की प्रस्तुतिकरण का सिलसिला शुरू हुआ। प्रस्तुतिकरण का सिलसिला शाम 6 बजे तक निरन्तर चलता रहा। शाम 6 बजे के बाद काव्यांजलि, स्वरांजलि टीम की कुछ प्रस्तुतियाँ हुईं। गीत संगीत का यह दौर रात 8 बजे तक चला। मिशन शिक्षण संवाद के विचार के जन्मदाता विमल कुमार जी एवं संयोजक अवनीन्द्र सिंह जादौन के द्वारा प्रदेश के समस्त जनपदों के एडमिन की बैठक की गई। जिसमें विभिन्न महत्वपूर्ण बातों पर चर्चा की गयी और पुनः यह सभी को याद दिलाया गया कि हम सभी सहयोगियों के जो भी मुख्य कार्य हैं,उनको बखूबी करते हुए मिशन शिक्षण संवाद की विचारधारा को मूर्तरूप प्रदान करना है। उक्त अवसर पर अंतरिक्ष शुक्ला, श्वेता श्रीवास्तव, अनुरागिनी सिंह, वत्सला श्रीवास्तव, सरिता शुक्ला, जया शर्मा, अरविंद मिश्रा, शंखधर द्विवेदी, शैला वर्मा, वंदना श्रीवास्तव, मोनिका द्विवेदी, मिथिलेश चौरसिया, निशा मिश्रा व अल्का जायसवाल आदि मिशन शिक्षण संवाद प्रयागराज की टीम द्वारा प्रदेश से आये हुए समस्त शिक्षकों का स्वागत किया गया।