शक्तिनगर थाना प्रभारी मिथिलेश मिश्र ने पांच वारंटी अभियुक्तों को गिरफ्तार कर चालान किया।

प्रभारी निरीक्षक मिथिलेश मिश्रा अपराधियों में खोफ के नाम से जाने जाते है

 | 
शक्तिनगर थाना प्रभारी मिथिलेश मिश्र ने पांच वारंटी अभियुक्तों को गिरफ्तार कर चालान किया।

अवधनामा संवाददाता 

सोनभद्र /शक्तिनगर जिले में अपराधियों की धरपकड़ के लिए चलाए जा रहे विशेष अभियान के अंतर्गत शक्तिनगर थाना प्रभारी निरीक्षक मिथिलेश मिश्र के नेतृत्व में शक्तिनगर पुलिस ने विभिन्न मुकदमों में पांच वारण्टी अभियुक्तों को न्यायालय में पेश किया। जिसमे अलग-अलग वारंटी अभियुक्तों पर विभिन्न-विभिन्न धाराओं में  मुकदमा दर्ज किया गया। मिली जानकारी के अनुसार मुकदमा नंबर 2763/2019 में वारण्टी रामचरण कुशवाहा, बलजीत कुशवाहा, निवासी खड़िया, थाना शक्तिनगर। मुकदमा नंबर 2592/2007 में वारण्टी सतीश पुत्र सालिक निवासी राजा परसवार, थाना शक्तिनगर। मुकदमा नंबर 2763/2019 में वारण्टी सूरज सिंह कुशवाहा पुत्र रमेश कुशवाहा निवासी खड़िया, थाना शक्तिनगर। मुकदमा नंबर 2592/2007 में वारण्टी नरेंद्र उर्फ गुड्डू पुत्र सालिक निवासी राजा परसवार, थाना शक्तिनगर। मुकदमा नंबर 2592/2007 में वारण्टी सालिक पुत्र रामधनी निवासी राजा परसवार थाना शक्तिनगर जिला सोनभद्र को गिरफ्तार कर मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया।

वहीं प्रभारी निरीक्षक मिथिलेश मिश्रा ने बताया कि, पुलिस अधीक्षक व क्षेत्राधिकारी के कुशल निर्देशन में अपराधियों की धरपकड़ के लिए चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत विभिन्न मुकदमों में वांछित  पांच वारंटी अभियुक्तों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है।

आपको बता दे कि, प्रभारी निरीक्षक मिथिलेश मिश्रा अपराधियों में खोफ के नाम से जाने जाते है। जिस जगह भी इनकी तैनाती होती है, उस जगह के अपराधी या तो अपराध करने से तौबा कर लेते है या फिर उस जगह को छोड़ कर सुरक्षित स्थान ग्रहण कर लेते है। उनके सख्त प्रशासन का नतीजा है कि, शक्तिनगर थाने क्षेत्र के बहुत से अपराधी इस समय जेल की हवा खा रहे है और स्थानीय निवासी चैन की सांस ले रहे।