सामुदायिक शौचालय निर्माण में देरी पर सम्बन्धित अधिकारियों को फटकार

डीपीआरओ के बाबू का रोका वेतन, समस्त एडीओ पंचायतों से मांग स्पष्टीकरण

 | 
सामुदायिक शौचालय निर्माण में देरी पर सम्बन्धित अधिकारियों को फटकार

अवधनामा संवाददाता


कुशीनगर। जिला स्वच्छता समिति की बैठक में जिलाधिकारी काफी तेवर में थे। बैठक में सामुदायिक शौचालय निर्माण में देरी होने पर जहाँ संबंधित अधिकारियों को जमकर फटकार लगाया वही डीपीआरओ के बाबू समेत कइयों का वेतन रोकने का निर्देश दिया है। साथ ही लाभार्थियों के खाते में एडीओ पंचायतों द्वारा धनराशि समय से ट्रांसफर न करने पर स्पष्टीकरण मांगा।

बुधवार को जिलाधिकारी कलेक्ट्रेट सभागार में स्वच्छता समिति की समीक्षा बैठक कर रहे है। सामुदायिक शौचालय का समय से निर्माण नहीं होने अधिकारियों को फटकार भी लगाई। इस क्रम में कई लोगो के वेतन भी रोके गए। डीपीआरओ के बाबू के वेतन रोका गया, ए0डी0ओ0 पंचायत के द्वारा लाभार्थी के खाते में पैसे जमा करने में विलम्ब का कारण पूछा गया। जिलाधिकारी ने कहा कि ग्राम पंचायत में धनराशि देने के बावजूद भी लाभार्थी को पैसे ट्रांसफर नहीं करने का कोई औचित्य नहीं है। इस संदर्भ में सभी एडीओ पंचायत से स्पष्टीकरण मांगा गया। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि अधूरे पड़े कार्यो को विजिट करके, चेक करके पूर्ण करावें। उन्होंने कहा कि  सामुदायिक शौचालय में यह ध्यान रखा जाना चाहिए कि वह रनिंग वाटर के साथ हो, और सामुदायिक शौचालय को समूह को हैंड ओवर किया जाए, इसका पैसा समय से संबंधित के खाते में ट्रांसफर हो जाना चाहिए। उन्होनें विकास खंडवार क्रियाशील शौचालय की जानकारी उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अनुज मलिक, परियोजना निदेशक राजनाथ भगत, जिला पंचायती राज अधिकारी अभय यादव, जिला सूचना अधिकारी कृष्ण कुमार समेत सभी संबंधित अधिकारीगण मौजूद थे।