मण्डी से अतिक्रमण न हटाने वाले आढ़तियों के विरूद्व एफआईआर दर्ज कराकर जेल भेजें:- डी0एम0

किसान अपना धान सरकारी क्रय केन्द्रों पर विक्रय कर समर्थन मूल्य का लाभ उठायें:- अविनाश

 | 
मण्डी से अतिक्रमण न हटाने वाले आढ़तियों के विरूद्व एफआईआर दर्ज कराकर जेल भेजें:- डी0एम0

हरदोई। जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने आज नवीन गल्ला मण्डी साण्डी एवं माधौगंज का निरीक्षण कर धान खरीद का जायजा लिया। गल्ला मण्डी साण्डी के निरीक्षण में जिलाधिकारी ने कुछ स्थानों पर आढ़तियों द्वारा सरकारी क्रय केन्द्रों के पास धान की बोरी लगाकर सरकारी क्रय केन्द्र पर अवरोध उत्पन्न करने पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए केन्द्र प्रभारियों को निर्देश दिये कि सरकारी धान क्रय केन्द्रों के आस-पास अतिक्रमण करने एवं मार्गो में अवरोध पैदा करने वाले आढ़तियों के विरूद्व कार्यवाही करें और सभी सरकारी धान क्रय केन्द्र के फड़ शाम तक खाली करायें।

गल्ला मण्डी माधौगंज में भारी अवस्थाओं एवं गेट से गल्ला मण्डी के अन्दर तक आढ़तियों द्वारा किये गये अतिक्रमण पर जिलाधिकारी ने कड़ी आपत्ति जाहिर करते हुए तहसीलदार बिलग्राम राजीव यादव, नोडल मण्डी सचिव बब्लू लाल तथा थानाध्यक्ष माधौगंज संदीप कुमार सिंह को कड़े निर्देश दिये कि मण्डी के अन्दर सरकारी धान क्रय केन्द्रों के पास तथा सड़क पर आढ़तियों द्वारा लगायी गयी बोरी एवं धान को आज रात तक हर-हाल में खाली करना सुनिश्चित करें और अतिक्रमण न हटाने वाले आढ़तियों के विरूद्व नियमानुसार धाराओं में एफआईआर दर्ज कराकर जेल भेजें। उन्होने कहा कि मण्डी में दोबारा अतिक्रमण की शिकायत मिलने पर सम्बन्धित अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विरूद्व कड़ी कार्यवाही की जायेगी।

साण्डी एवं माधौगंज धान क्रय केन्द्रों के निरीक्षण में जिलाधिकारी ने उपस्थित किसानों से कहा कि  अपना आधार कार्ड एवं खतौनी तहसील में ले जाकर सत्यापन करायें और अपना धान सीधे सरकारी धान क्रय केन्द्रों पर विक्रय करें और सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य का लाभ उठायें। उन्होने समस्त केन्द्र प्रभारियों को निर्देश दिये कि बिना किसी बिचौलियें व दलाल के निष्पक्ष रूप से किसानों का धान करें और अपने क्रय केन्द्रों पर लक्ष्य के अनुसार प्रतिदिन तीन सौ कुन्तल धान की खरीद करें। जिलाधिकारी ने कहा कि धान क्रय केन्द्रों पर धान खरीद में लापरवाही एवं उदासीनता की शिकायत मिलने पर केन्द्र प्रभारी सहित अन्य संबंधित कर्मचारियों पर भी कार्यवाही की जायेगी।