मतदान बूथों पर समस्त मूलभूत सुविधाएं कराये उपलब्ध : डीएम

सदर तहसील सभागार में एआरओ, सीओ, कानूनगो व लेखपालों के साथ बैठक कर दिया आवश्यक दिशा निर्देश

 | 
मतदान बूथों पर समस्त मूलभूत सुविधाएं कराये उपलब्ध : डीएम
अवधनामा संवाददाता

गोरखपुर। जिलाधिकारी विजय किरन आनंद सदर तहसील सभागार में स्वीप को और गति देने के लिए मतदाताओं को जागरूक कर अधिक से अधिक मतदाता मतदान स्थल पर पहुंच कर अपने मताधिकार का प्रयोग करने के  लिए जागरूक करने का निर्देश दिया बीआरसी का निरीक्षण कर बीआरसी के दायित्व को विस्तार पूर्वक मौजूद कर्मचारियों को समझाते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिया डीएम ने कहा कि मतदान स्थलों पर समस्त मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध होना चाहिए दिव्यांगजनों व 80 वर्ष से अधिक मतदाताओं के लिए मतदान केंद्र पर रैंप की व्यवस्था के साथ उनको मतदान केंद्र तक लाने की व्यवस्था सदर तहसील के अंतर्गत पिपराइच भटहट जंगल कौड़िया ब्लाक के वीडियो एआरओ क्षेत्राधिकारी कैंपियरगंज व चौरीचौरा व सदर तहसील अंतर्गत समस्त  कानूनगो लेखपाल तथा चुनाव से संबंधित जुड़े हुए सदर तहसील के कर्मचारियों के साथ बैठक करते हुए निर्देशित किया की बूथों पर जरूरी मूलभूत सुविधाएं कक्षों की संख्या फर्नीचर रैम्प विद्युत पेयजल रास्ता व्यवस्था शौचालय, पीने का पानी की व्यवस्था नेटवर्क आदि की सुविधाएं जांच लें। सुरक्षा की दृष्टि से भी जानकारी जुटाएं। पूर्व के चुनाव में यदि कोई वल्नरेबुल (अरक्षत) बूथ या वह लोग जो किसी विशेष वर्ग को मताधिकार का प्रयोग करने से रोकते हों जैसे प्रकरण संज्ञान में लेकर नए सिरे से समीक्षा करें।

उन्होंने पोलिंग स्टेशन तक पहुंचने की स्थिति प्रवेश और निकास द्वार चारदीवारी कमरों की संख्या, खुला स्थान मतदान दलों के आवास की सुविधा एवं शौचालय की उपलब्धता आदि के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान सेक्टर अधिकारी को सेक्टर मजिस्ट्रेट के रूप में भी दायित्वों का निर्वहन करना है।

उन्हें कर्तव्यों तथा अधिकारों से भली प्रकार अवगत हो जाना चाहिए। सेक्टर अधिकारी पुलिस के मोबाइल दस्ते के साथ ही क्षेत्र का दौरा करें। यदि किसी क्षेत्र विशेष में मतदाता स्वयं को असुरक्षित महसूस करते हों तो उसकी रिपोर्ट शीघ्र उच्चाधिकारियों को दें ताकि उस क्षेत्र में प्रभावी गश्त और आवश्यकता होने पर निरोधात्मक कार्रवाई भी की जा सके। जिले में स्वतंत्र निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्वक चुनाव कराना प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। सेक्टर अधिकारी चुनाव विभाग एवं प्रशासन की आंख कान और नाक हैं। फील्ड की वस्तु स्थिति से उन्हें भली प्रकार वाकिफ रहना होगा तभी वे प्रशासन को भी सही जानकारी दे सकेंगे। यदि किसी क्षेत्र विशेष में ऐसे व्यक्तियों की जानकारी मिलें जिनसे चुनाव में शांतिभंग होने की आशंका हो, तो ऐसे संदेहास्पद व्यक्तियों के बारे में भी संबंधित सहायक रिटर्निंग अधिकारी अथवा उप निर्वाचन अधिकारी एवं प्रशासन को जानकारी दे बैठक से पूर्व जिलाधिकारी विजय किरन आनंद ने बीआरसी का निरीक्षण कर चल रहे मतदाता कार्यों की समीक्षा करते हुये बीआरसी कर्मचारियों को बताया कि बीआरसी चुनाव का अभिन्न व महत्वपूर्ण अंग है बीआरसी के बेगैर चुनाव सकुशल संपन्न कराना नामुमकिन है इसलिए बीआरसी के कर्मचारी अपने दायित्वों का कर्तव्य पूर्ण निष्ठा के साथ कार्य करते हुये चुनाव को संपन्न कराने में अपना योगदान देकर अपना महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। बैठक में डीएम विजय किरन आनंद सीडीओ इंद्रजीत सिंह तहसीलदार न्यायिक नीलम तिवारी एसीएम रोहित मौर्या नायब तहसीलदार पिपराइच वशिष्ट वर्मा नायब तहसीलदार सदर विकास कुमार क्षेत्राधिकारी कैंपियरगंज अजय कुमार सिंह क्षेत्राधिकारी चौरी चौरा अखिलानंद उपाध्याय वीडियो जंगल कौड़िया भटहट पिपराइच सदर तहसील के समस्त  कानूनगो व लेखपाल तथा चुनाव से जुड़े कर्मचारी मौजूद रहे।