प्रेसिडेंशियल ट्रेन का आगमन शीघ्र, निखर गया रेलवे स्टेशन

राष्ट्रपति की उपस्थिति में ट्रेन को गुजारने की तैयारियां चरम पर

 | 
प्रेसिडेंशियल ट्रेन का आगमन शीघ्र, निखर गया रेलवे स्टेशन

प्रेसिडेंशियल ट्रेन का आगमन शीघ्र, निखर गया रेलवे स्टेशन

अवधनामा संवाददाता 

बाराबंकी (Barabanki)। आजादी के बाद पहली बार राष्ट्रपति अयोध्या जा रहे। महत्वपूर्ण यह भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भगवान रामलला के विधिवत दर्शन करेंगे। उनके इस कार्यक्रम में यात्रा को अंजाम देगी प्रेसिडेंशियल ट्रेन जो कि 29 अगस्त को 9 बजे चारबाग स्टेशन से चलकर बाराबंकी होते हुए अयोध्या पहुंचेगी। देश के प्रथम नागरिक के दौरे को लेकर डीएम, एसपी व रेलवे अफसरों ने भ्रमण कर तैयारियां देखी। इस बीच रेलवे स्टेशन काफी हद तक निखर चुका है, बचे काम पूरे किए जा रहे। 

प्रेसिडेंशियल ट्रेन लखनऊ अयोध्या के बीच बाराबंकी में 65 किलोमीटर का सफर तय करेगी। बात देश के प्रथम नागरिक से जुड़ी है इसलिए सुरक्षा के जबरदस्त इंतजाम जा रहे हैं। बाराबंकी की सीमा में रेल पटरी की जांच व मरम्मत के साथ ही ट्रेन को सुरक्षित गुजारने के सारे बंदोबस्त बदस्तूर जारी हैं। 

विदित हो कि गत वर्ष प्रधानमंत्री द्वारा अयोध्या में भगवान राम की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण कार्य के शिलान्यास के बाद इस वर्ष राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का अयोध्या जाना तय हो गया। अब उनका कार्यक्रम भी निर्धारित हो गया है। वह 29 अगस्त को लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन से सुबह 9 बजे प्रेसीडेंशियल ट्रेन के द्वारा अयोध्या के लिए रवाना होंगे। बाराबंकी से होकर गुजरने की दूरी 65 किलोमीटर रहेगी। अयोध्या में उनका 4 घंटे का कार्यक्रम है। कार्यक्रम समाप्ति के बाद वह उसी ट्रेन से वापस लखनऊ रवाना होंगे। लखनऊ से 135 किलोमीटर दूरी तय करने के लिए बाराबंकी सीमा से ट्रेन सकुशल व सुरक्षित गुजारने को रेलवे की तैयारी चरम पर है। रेलवे ने अयोध्या रूट पर पटरियों की मरम्मत पूरी कर रास्ते में पड़ने वाले स्टेशनों पर जीआरपी व आरपीएफ की सुरक्षा आदि व्यवस्थाओं का खाका तैयार कर लिया। जीआरपी व आरपीएफ को राष्ट्रपति की यात्रा सही व सुरक्षित तरीके से निपटाने के लिए दिशा निर्देश मिल रहे। 

उधर आज जिलाधिकारी डॉ आदर्श सिंह ने पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद व रेल अधिकारियों के साथ यहां की जा रही तैयारियों का जायजा लिया और दिशा निर्देश दिए। विशेष तौर पर सुरक्षा इंतजामों पर ध्यान दिया गया।