मरीजों को आरोग्य स्वास्थ्य मेला में मिल रही जांच, उपचार और दवा की सुविधा

प्रतिदिन आमे वाले मरीजो की बढ़ रही संख्या

 | 
मरीजों को आरोग्य स्वास्थ्य मेला में मिल रही जांच, उपचार और दवा की सुविधा

अवधनामा संवाददाता  (मनोज बैद्य)

ललितपुर। हर रविवार को आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला में सबसे ज्यादा त्वचा एवं गैस संबंधी बीमारी के मरीज इलाज कराने पहुंच रहे हैं। जिले में अब तक आयोजित स्वास्थ्य मेला में 2695 त्वचा व 1202 गैस के मरीजों ने चिकित्सीय लाभ पाया है। इसके अलावा सांस, डायबिटीज, लीवर, एनीमिया के मरीज भी उपचार के लिए पहुंचे हैं।

सम्पूर्ण समाधान की तर्ज पर ग्रामीण एवं शहर के स्वास्थ्य केंद्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला हर रविवार को आयोजित किया जाता हैताकि मरीजों को एक ही छत के नीचे स्वास्थ्य सुविधाएजांचउपचार और दवाएं आदि उपलब्ध हो सकें और उन्हें अलग-अलग बीमारियों के लिए इधर-उधर न भटकना पड़े। इस आयोजन का मरीज खूब फायदा ले रहे हैं। स्वास्थ्य मेला के जिला नोडल अधिकारी ने बताया कि जिले में 23 नए स्वास्थ्य केन्द्रों एवं नगर के दो स्वास्थ्य केंद्रों पर हर रविवार स्वास्थ्य मेला का आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन से मरीजों को लाभ हो रहा है। हमारा प्रयास है कि इस मेला से अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हों। मेला में त्वचा, गैस, सांस, एनीमिया, डायबिटीज, लीवर, जोड़ों के दर्द से संबंधित बीमारी के मरीज इलाज के लिए पहुंच रहे हैं। इसके अलावा मेला में गोल्डन कार्ड बनवाने, गर्भावस्था व प्रसवकालीन परामर्श, परिवार नियोजन संबंधी साधन एवं परामर्श, बच्चों में डायरिया एवं निमोनिया की रोकथाम, टीबी, मलेरिया, डेंगू, कुष्ठ की जानकारी, जांच एवं उपचार निशुल्क प्रदान किया जाता है।

कितने मरीजों ने लिया स्वास्थ्य मेला का लाभ

मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला में अभी तक 13940 मरीजों ने चिकित्सीय परामर्श एवं दवा प्राप्त की है। इनमें त्वचा के 2695, रेस्परेटरी  के 1236, गैस्ट्रो के 1202, लिवर के 363,  डायबिटीज के 293, हाइपरटेंसी के 289, एनीमिया के 256, मरीज लाभान्वित हुए। ग्राम बम्होरीकलां निवासी रामदास का कहना है कि चेहरे पर जलन की शिकायत तीन चार महीने से थी। कई जगह इलाज कराया लेकिन कहीं आराम नहीं मिला। मेला में होम्योपैथी दवा ली, उससे काफी आराम हुआ है। मोहल्ला गोविंद नगर निवासी रमजान खां ने बताया कि डाक्टर को खांसी होने की समस्या बताई। इस पर उन्होंने दवा दी, साथ ही गुनगुना पानी पीने की सलाह दी है। राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय ललितपुर नगर की प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डा.विनीता भारती ने बताया कि जिले में त्वचा रोगी बहुत हैं। मेला के साथ आयुर्वेदिक चिकित्सालय में भी त्वचा के रोगी बढी संख्या में आते हैं। कई लोग को जुकाम, खांसी व जोडों में दर्द की भी शिकायत लेकर मेला में आ रहे हैं।