वैश्विक मानकों के अनुरुप सुविधाएं प्रदान कराना हमारी प्राथमिकता- सांसद लल्लू सिंह

अवधनामा संवाददाता 6 रेलवे ओवरब्रिज पर अपनी सहभागिता के लिए रेलवे ने दी मंजूरी अयोध्या (Ayodhya)। शहर की यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए क्रासिंग पर बनने वाले 6 रेलवे ओवरब्रिज पर अपनी सहभागिता के लिए रेलवे ने मंजूरी प्रदान कर दी है। रेलवे ओवर ब्रिज का जल्द निर्माण प्रारम्भ करने के लिए सांसद
 | 

अवधनामा संवाददाता

6 रेलवे ओवरब्रिज पर अपनी सहभागिता के लिए रेलवे ने दी मंजूरी
अयोध्या (Ayodhya)। शहर की यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए क्रासिंग पर बनने वाले 6 रेलवे ओवरब्रिज पर अपनी सहभागिता के लिए रेलवे ने मंजूरी प्रदान कर दी है। रेलवे ओवर ब्रिज का जल्द निर्माण प्रारम्भ करने के लिए सांसद लल्लू सिंह लगातार प्रयासरत थे। शहर में एक और रेलवे ओवरब्रिज को भी जल्द स्वीकृति मिलने की उम्मीद है। वर्ष के अंत तक सातों रेलवे ओवरब्रिज के निर्माण का कार्य प्रारम्भ हो जायेगा।
सांसद लल्लू सिंह ने बताया कि इन रेलवे ओवरब्रिज के निर्माण में 533 करोड़ 89 लाख 87 हजार का खर्च आयेगा। जिसमें 160 करोड़ 84 लाख रेलवे तथा 273 करोड़ 5 लाख 87 हजार सेतु निगम उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा खर्च किया जायेगा। जिन रेलवे ओवरब्रिज की स्वीकृति मिली है। उसमें 121 मोदहा, 111 टेढ़ी बाजार, 107 दर्शननगर फोरलेन तथा 112 बड़ी बुआ, 108 अयोध्या दर्शननगर परिक्रमा मार्ग, 105 सूर्यकुंड टूलेन का निर्माण किया जायेगा। 118 फतेहगंज रेलवे ओवर ब्रिज का निर्माण हेतु रेलवे विभाग से स्वीकृति जल्द मिल जायेगी। इसी वर्ष के अंत तक इनमें कार्य प्रारम्भ हो जायेगा। उन्होने बताया कि देश विदेश से अयोध्या आने वाले श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो। अयोध्या में भ्रमण करते समय उनके समक्ष जाम की दिक्कतें न आये। इसके लिए इन रेलवे ओवर ब्रिज का निर्माण एक महत्वपूर्ण कड़ी साबित होगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार अयोध्या के विकास के लिए प्रतिबद्ध  है। उनकी परिकल्पना व सोच को जमीन पर उतारने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सतत प्रयासरत है। जिसका परिणाम अब दिखाई देने लगा है। अयोध्या में आने वाले श्रद्धालुओं व पर्यटकों को वैश्विक मानकों के अनुरुप सुविधाएं प्रदान कराना हमारी प्राथमिकता है।