भारतीय संविधान में राजभाषा के सम्बन्ध में व्यवस्था एवं भारत सरकार की राजभाषा नीति पर एक कार्यशाला का आयोजन

 | 
 भारतीय संविधान में राजभाषा के सम्बन्ध में व्यवस्था एवं भारत सरकार की राजभाषा नीति पर एक कार्यशाला का आयोजन

अवधनामा संवाददाता


प्रयागराज । सरकारी कामकाज़ में राजभाषा हिंदी का प्रयोग बढ़ाने एवं कामकाज का बेहतर महौल बनाने के उद्द्देश्य से बुधवार को प्रयागराज मंडल के संकल्प सभागार में मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में मंडल रेल प्रबंधक महोदय मोहित चंद्रा कि अध्यक्षता में  एक कार्यशाला का आयोजन किया गया | भारतीय संविधान में राजभाषा के सम्बन्ध में व्यवस्था एवं भारत सरकार कि राजभाषा नीति पर  एक कार्यशाला का आयोजन किया गया| प्रयागराज मंडल के इस कार्यालय में सभी शाखा अधिकारियों ने भाग लिया| कार्यशाला कि अध्यक्षता करते हुए मंडल रेल प्रबंधक महोदय ने कहा कि “ जैसा आप लोग जानते है कि राजभाषा हिंदी में कार्य करना हमारा संवैधानिक दायित्व है |राजभाषा हिंदी में काम करने के लिए हमारे संविधान में व्यवस्था कर दी गयी है और इसके आधार पर राजभाषा नियम बनाए गए है और भारत सरकार कि राजभाषा नीति का आधार भी हमारा संविधान है|”

कार्यशाला का संचालन करते हुए राजभाषा अधिकारी शेषनाग पुष्कर ने कहा कि भारत सरकार कि  राजभाषा नीति अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर थोपना नहीं है बल्कि ऐसा वातावरण पैदा करना है जिससे राजभाषा हिंदी से अधिकारी एवं कर्मचारी भावनात्मक रूप से जुड़े | सरकारी कामकाजों में राजभाषा हिंदी का  प्रयोग बढ़े|उन्होंने आगे कहा कि जिस काम से व्यक्ति कि भावना जुड़ी होती है,अपनेपन कि भावना होती है,सहयोग कि भावना होती है ऐसे काम में आनंद आता है और कार्य बेहतर होता है |यदि रेल कर्मी राजभाषा के साथ साथ रेल परिचालन से भी भावनात्मक रूप से जुड़े तो राजभाषा हिंदी प्रगति के साथ साथ रेल परिचालन भी बेहतर तरीके से होगा और रेलवे में बेहतर वातावरण का निर्माण होगा|