35 फसल प्रजातियों का किया गया आनलाइन विमोचन

 | 
35 फसल प्रजातियों का किया गया आनलाइन विमोचन

अवधनामा संवाददाता

आजमगढ़ । आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या के अधीन संचालित कृषि विज्ञान केंद्र कोटवा आजमगढ़ पर जलवायु सहिष्णु कृषि तकनीकों एवं पद्धतियों का व्यापक अभियान के अंतर्गत किसानों और कृषि वैज्ञानिकों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संवाद और उनके द्वारा विशेष गुणों वाली 35 फसल प्रजातियों का विमोचन आनलाइन माध्यम से किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सदर विधानसभा भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रत्याशी व प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य अखिलेश मिश्र गुड्डू उपस्थित रहे। मण्डल अध्यक्ष नगर क्षेत्र भाजपा शैलेन्द्र अग्रवाल ने अन्नदाता किसानों को नई तकनीक अपनाने व कृषि में उद्यमिता स्थापना हेतु प्रेरित किया। केवीके प्रभारी डा आर के सिंह ने फसल अवशेष प्रबन्धन में मशीनों के प्रयोग एवं उनके द्वारा होने वाले लाभ पर प्रकाश डाला। डाॅ रूद्र प्रताप सिंह वरिष्ठ वैज्ञानिक फसल सुरक्षा ने सूक्ष्मजीव अनुकल्पों के प्रयोग से कम्पोस्ट बनाने हेतु विस्तार से बताया। साथ ही मशरूम उत्पादन व मधुमक्खी पालन पर बनी डाक्यूमेन्टरी फिल्म दिखाकर प्रेरित किया गया। डाॅ रणधीर नायक वरिष्ठ वैज्ञानिक मृदा विज्ञान ने जैविक खेती व बायो डीकम्पोजर के बारे में जानकारी दी। मौसम वैज्ञानिक डॉ तेज प्रताप ने ग्रामीण कृषि मौसम सेवा के अन्तर्गत मौसम पूर्वानुमान प्राप्त करने हेतु सभी को जागरूक किया। श्रीमती महिमा यादव ने भी समूह की महिलाओं के स्वावलम्बन पर जानकारी दी। सभी प्रतिभागियों को एक एक बायोडीकम्पोजर का बोतल निरूशुल्क प्रदान की गया। कार्यक्रम का वित्तपोषण केन्द्र पर आईसीएआर-अटारी, जोन 3, कानपुर के माध्यम से संचालित परियोजना फसल अवशेष प्रबंधन से किया गया जिसमें 114 महिलाओं व 94 पुरुषों सहित कुल 208 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। सफल आयोजन में उपमन्यु सिंह, शिवेश त्रिपाठी, प्रज्जवल सिंह, कु० ज्योति यादव, सर्वेश, भास्कर, सूबेदार यादव, सुजल, राजकिशोर सिंह, दुर्ग विजय आदि की विशेष भूमिका रही।