हय्या अला खैरिल अमल की ओर से बच्चों की शब्बेदारी मे रात भर पढ़े गए नौहे-होता रहा मातम

 | 
 हय्या अला खैरिल अमल की ओर से बच्चों की शब्बेदारी मे रात भर पढ़े गए नौहे-होता रहा मातम

अवधनामा संवाददाता


प्रयागराज :  शाहगंज इमामबाड़ा सफदर अली बेग मे हय्या अला खैरिल अमल तन्ज़ीम की ओर से बच्चों की शब्बेदारी का आयोजन किया गया।ज़हीर अब्बास व साथियों ने मर्सियाख्वानी की।मौलाना रज़ा अब्बास ज़ैदी ने मजलिस को खेताब करते हुए करबला के बहत्तर शहीदों की क़ुरबानी का मार्मिक अन्दाज़ मे ज़िक्र किया।अम्मार इलाहाबादी की निज़ामत (संचालन) मे दरियाबाद व रानी मण्डी की बच्चों की अन्जुमनों ने रात भर पुरदर्द नौहा पढ़ कर माहौल को ग़मज़दा बनाए रखा।अन्जुमन हुसैनिया क़दीम खुर्द ,अनजुमन मोहाफिज़े अज़ा खुर्द ,अन्जुमन हाशिमया खुर्द ,अन्जुमन शब्बीरिया खुर्द , अन्जुमन असग़रिया खुर्द ,अन्जुमन मज़लूमिया खुर्द के साथ अन्जुमन अब्बासिया ने भी नौहा और मातम करते हुए हुसैन ए मज़लूम की शहादत पर गिरया ओ ज़ारी करते हुए बच्चों की शब्बेदारी मे शिरकत की।शब्बेदारी मे खुसूसी नौहाख्वान रहबर इलाहाबादी ने भी खास नौहा पढ़ा।हज़रत इमाम हुसैन के वफादार घोड़े ज़ुलजनाह की शबीह गुलाब और चमेली के फूलों से सजा कर और ग़ाज़ी अब्बास का अलम भी शब्बेदारी मे रात भर ज़ियारत कराने को सजा कर निकाला गया।बच्चों की शब्बेदारी का आयोजन करने वालों मे सैफ ,फैज़ ,मोहम्मद ,सलमान हैदर ,सादिक़ ,अलमास ,औसजा ,आमिर आदि शामिल रहे।