जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कर-करेत्तर एवं मासिक स्टाफ की बैठक सम्पन्न

पांच वर्ष से अधिक लम्बित वादों को प्राथमिकता पर निस्तारित किये जाने का दिए निर्देश
 
 | 
  जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कर-करेत्तर एवं मासिक स्टाफ की बैठक सम्पन्न
अवधनामा संवाददाता 

प्रयागराज :  जिलाधिकारी  संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में गुरूवार को संगम सभागार में  कर-करेत्तर एवं मासिक स्टाफ से सम्बंधित समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में कर-करेत्तर से सम्बंधित विभागों के राजस्व वसूली की प्रगति की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को प्रवर्तन की कार्यवाही में तेजी लाते हुए राजस्व वसूली को बढ़ाये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने वाणिज्य कर विभाग, आबकारी, स्टाम्प एवं रजिस्टेªशन, परिवहन, विद्युत विभाग, खनन विभाग, वन विभाग, मण्डी समिति सहित अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित किये जाने का निर्देश दिया है। विद्युत विभाग की समीक्षा करते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में वसूली की प्रगति की समीक्षा में मेजा में राजस्व वसूली कम पाये जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए विद्युत विभाग के अधिकारियोें को वसूली में तेजी लाने के निर्देश दिये है। आबकारी विभाग एवं वाणिज्य कर की राजस्व वसूली की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने विभागों की वसूली संतोष जनक पाये जाने पर उनकी पूरी टीम की सराहना की। उन्होंने आबकारी विभाग के अधिकारियों को अभियान चलाकर अवैध शराब बिक्री पर रोक लगाने के निर्देश दिये है। जिलाधिकारी ने राजस्व वसूली के कार्य में संतोषजनक प्रगति न पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए मेजा एवं सोरांव के तहसील को वसूली में तेजी लाये जाने के निर्देश दिये है। जिलाधिकारी ने परिवहन विभाग की समीक्षा करते हुए सम्भागीय परिवहन अधिकारी तथा सभी सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारियों को अभियान चलाकर प्रवर्तन की कार्यवाही करते हुए राजस्व वसूली में तेजी लाये जाने का निर्देश दिया है साथ ही साथ जिलाधिकारीने यह भी हिदायत दी है कि किसी भी रूट पर डग्गामार वाहनों के चलते हुए पाये जाने पर सम्बंधित सहायक सम्भागीय परिहवन अधिकारी के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
मासिक स्टाफ बैठक में राजस्व के कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सभी सम्बंधित राजस्व अधिकारियों को पांच वर्ष से अधिक लम्बित वादों को प्राथमिकता पर निस्तारित किये जाने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने अविवादित वरासत से सम्बंधित प्रकरणों को शत-प्रतिशत निस्तारित कराये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने आय प्रमाणपत्र, निवास प्रमाणपत्र से सम्बंधित आवेदन पत्रों को शीघ्रता से निस्तारित कराये जाने का निर्देश सभी उपजिलाधिकारियों को दिया है। उन्होंने ग्राम समाज की जमीन पर किये जाने वाले अवैध अतिक्रमण के विरूद्ध प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने बड़े बकायेदारों के विरूद्ध प्रभावी कार्रवाई करते हुए उनसे वसूली सुनिश्चित किये जाने का निर्देश दिया है। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन हर्षदेव पाण्डेय, अपर जिलाधिकारी नगर  मदन कुमार, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व जगदम्बा सिंह सहित सम्बंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।