नोडल अधिकारी ने विकास एवं स्वास्थ्य योजनाओं सहित विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं की, किए समीक्षा

 क्रियान्वयन में तेजी लाए जाने के दिए निर्देश 

 | 
नोडल अधिकारी ने विकास एवं स्वास्थ्य योजनाओं सहित विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं की, किए समीक्षा 

अवधनामा संवाददाता 

देवरिया (Devariya)  विकास कार्यों के प्रभावी अनुश्रवण एवं स्थलीय निरीक्षण हेतु शासन द्वारा नामित नोडल अधिकारी एवं सचिव उच्च शिक्षा शमीम अहमद खान ने शासन की प्राथमिकता एवं जन समस्याओं का प्रभावी निराकरण सुनिश्चित करने हेतु विकास भवन के गांधी सभागार में समीक्षा बैठक आयोजित की। बैठक में चिकित्सा, स्वास्थ्य, डेंगू, आउटब्रेक, स्क्रब, टायफस, बाढ, अतिवृष्टि के आपदा से निपटने हेतु बचाव और राहत कार्यो सहित विभिन्न संचालित जन कल्याणकारी एवं विकास योजनाओं की समीक्षा की गई। नोडल अधिकारी  अहमद ने जिले में कानून व्यवस्था की भी समीक्षा की, जिसके क्रम में बैठक में पुलिस अधीक्षक श्रीपति मिश्र ने जिले के कानून व्यवस्था की जानकारी दी। जिस पर नोडल अधिकारी ने संतोष व्यक्त किया और साथ ही खनन माफिया और वन माफिया पर निगरानी रखने की सलाह दी। नोडल अधिकारी ने खनन, राजस्व में कमी पर नाराजगी व्यक्त की। गोवंश संरक्षण योजना के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु सम्बधित अधिकारी को निर्देश दिया। चिकित्सा विभाग की समीक्षा में नोडल अधिकारी ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत बनाए जाने वाले गोल्डेन कार्ड में सक्रियता लाए। झोलाछाप डॉक्टर की धर-पकड़ और पीसीपीएनडीटी एक्ट से सम्बंधित कार्यवाही को तेज किया जाए। उन्होंने धान खरीद की तैयारी हेतु भी आवश्यक दिशा निर्देश दिया। अधूरे   पीएम आवास योजना की प्रगति भी जांची।  इसके अतिरिक्त नोडल अधिकारी ने पीडब्ल्यूडी को गड्ढा मुक्त सड़क बनाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना, दिव्यांगजन पेंशन योजना, कन्या सुमंगला योजना, सर्व शिक्षा अभियान, कायाकल्प योजना, पीएम किसान सम्मान निधि योजना, उर्वरक की अद्यतन स्थिति, वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट योजना, प्रधानमंत्री रोजगार योजना आदि की भी समीक्षा की। वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट योजना तथा प्रधानमंत्री रोजगार योजना में लंबित पत्रावलियों प्रस्तावों के निस्तारण में लापरवाही बरतने पर जनपद के लीड बैंक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया को 3 दिन के भीतर प्राथमिकता से निपटाने को कहा।बैठक में जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन सीडीओ रवींद्र कुमार, सीएमओ डॉक्टर आलोक पांडेय सहित कई विभागों के जिलास्तरीय अधिकारी मौजूद थे।