कोई बच्चा कुपोषण का शिकार न हो मेयर

 | 
कोई बच्चा कुपोषण का शिकार न होरू मेयर

अवधनामा संवाददाता

सहारनपुर (Saharanpur)। मेयर संजीव वालिया ने ग्रामीणों से आह्वान किया कि वे बच्चों के लिए सरकार की पोषण योजना का लाभ उठाएं। यदि बच्चा कमजोर है तो उसके स्वास्थय में सुधार के लिए उसे पोषण पुनर्वास केंद्र में भर्ती कराएं। उन्होंने कहा कि सरकार की प्राथमिकता है कि कोई बच्चा प्रदेश में कुपोषण का शिकार न हो।

मेयर वालिया बुधवार को चुनहैटी गाड़ा स्थित आंगनवाणी केंद्र पर चतुर्थ राष्ट्रीय पोषण माह का उद्घाटन करने के बाद कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने फीता काटकर कार्यक्रम को उद्घाटन किया। सीडीपीओ आशा त्रिपाठी ने बुके भंेट कर उनका स्वागत किया। मेयर वालिया ने ग्रामीण महिलाओं से कहा कि वे आंगनवाड़ी कंेद्रों में आएं और अपने बच्चों का वजन कराएं और यदि बच्चे का वजन कम है तो पोषण पुनर्वास केंद्र में भर्ती कराकर उसे योजना के अनुरुप न्यूट्रिशन व अन्य उपचार दिलाए। उन्होंने कहा कि सरकार की प्राथमिकता यह है प्रदेश का नौनिहाल खुशहाल और स्वस्थ रहे, कोई भी कुपोषण का शिकार न हो और किसी को भी अधिकारों से वंचित न रखा जाए।

महापौर संजीव वालिया ने इस अवसर पर गर्भवती महिला श्रीमती नगमा की गोदभराई की रस्म अदा की  और शहजाद तथा सादिक बच्चों का अन्नप्राशन भी किया। इस प्रकार समुदाय आधारित गतिविधियों को प्रेरित करते हुए मेयर ने पोषण माह का शुभारंभ किया। उन्होंने इस अवसर पर पौधारोपण भी किया। सीडीपीओ आशा त्रिपाठी ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार एक समय सारणी निर्गत की गयी है। उस समय सारणी में प्रथम सप्ताह में अधिक से अधिक पोषण वाटिका लगायी जानी है, उस पोषण वाटिका से जो सब्जियां या फल प्राप्त होंगे उससे बच्चों को रेसिपी बनाकर उनके स्वास्थय स्तर में सुधार किया जायेगा। उन्होंने बताया कि सितंबर माह के प्रथम सप्ताह में महिलाओं को योगा के टिप्स भी दिए जायेंगे। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय पोषण माह में 15 विभाग महत्वपूर्ण भूमिका निभायेंगे। इस अवसर पर बाल विकास पुष्टाहार विभाग द्वारा एक स्टाल भी लगाया गया। कार्यक्रम में बाल विकास परियोजना अधिकारी बलियाखेड़ी गौहर अंजुम तथा प्रधानाध्यापक प्राथमिक विद्यालय चुनहैटी आदि भी मौजूद रही।