सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में अत्याधुनिक शिक्षा की अलख जगा रही एनसीएल

दुधीचुआ क्षेत्र ने सिंगरौली में “सब साक्षर” मुहिम के तहत स्थापित किए हैं 175 पुस्तकालय व स्मार्ट क्लास

 | 
सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में अत्याधुनिक शिक्षा की अलख जगा रही एनसीएल

अवधनामा संवाददाता 

सोनभद्र /सिंगरौली भारत सरकार की मिनी रत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) के कोयले से जहां एक ओर देश की ऊर्जा संरक्षा सुनिश्चित हो रही है वहीं दूसरी ओर कंपनी सीएसआर के तहत सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में अत्याधुनिक शिक्षा की व्यवस्था कर ग्रामीण बच्चों का जीवन रोशन कर रही है | 

कंपनी के स्थानीय समुदाय के सतत व समग्र विकास की नीतियों के तहत ही  एनसीएल के दुधीचुआ क्षेत्र ने सामाजिक निगमित दायित्व के तहत 448.11 लाख में, सिंगरौली जिले के 175 विद्यालयों मे पुस्तकालय व स्मार्ट क्लास की स्थापना की है | 

जिला प्रशासन के साथ हुए अनुबंध के अंतर्गत दुधीचुआ क्षेत्र द्वारा प्राप्त धनराशि से 175 विद्यालयों में पुस्तकालय स्थापित करने हेतु आवश्यक फर्नीचर, शेल्फ व पुस्तकों इत्यादि की व्यवस्था की गयी है | साथ ही विद्यालय को ई-लर्निंग केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए एलईडी/कंप्यूटर, सैटेलाइट टीवी कनेक्शन इत्यादि की व्यवस्था कर स्मार्ट क्लास की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है | 

दुधीचुआ क्षेत्र के इस प्रयास से उन बच्चों को मदद मिलेगी जो आर्थिक कारणों से पुस्तकें नहीं खरीद पाते थे । साथ ही कक्षाओं में तकनीकी व आधुनिक उपकरणों की मदद से शिक्षा को और अधिक रोचक बनाने में मदद मिलेगी क्योंकि सभी विषयों को छवियों और वीडियो को दिखाते हुए पढ़ाया जा सकेगा | इस प्रयास से अधिक से अधिक छात्रों को विद्यालय आने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा और विद्यालय छोड़ने वाले छात्रों की संख्या में भी कमी आएगी | 

गौरतलब है कि सिंगरौली जिले के दूरस्थ स्थानों में रहने वाले बच्चों की बेहतर शिक्षा व्यवस्था के लिए एनसीएल सब साक्षर मुहिम चला रही है जिसके तहत विद्यालयों में स्मार्ट क्लास, फर्नीचर, पुस्तकों इत्यादि की व्यवस्था के साथ ही नए विद्यालयों का निर्माण व मरम्मत भी  करवाई जाती है ।