नकाबपोश बदमाशों ने ग्राहक सेवा केंद्र से लूटे पांच लाख रुपये

चार बाइक पर छह बदमाश थे सवार, एडीजी जोन ने घटना स्थल का किया निरीक्षण

 | 
नकाबपोश बदमाशों ने ग्राहक सेवा केंद्र से लूटे पांच लाख रुपये

अवधनामा संवाददाता 


कुशीनगर। राष्ट्रीय राजमार्ग-28 स्थित झुंगवा कट के पास भारतीय स्टेट बैंक के ग्राहक सेवा केंद्र संचालक को बुधवार की देर शाम छह नकाबपोश बदमाशों ने लूट लिया। ग्राहक सेवा केंद्र के संचालक से पांच लाख की रकम लूटकर बाइक सवार बदमाश हेतिमपुर की तरफ पिस्टल लहराते व फायरिंग करते हुए भाग निकले। सूचना पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और जांच-पड़ताल में जुट गई। 

विशंभरपुर गांव के निवासी संतोष तिवारी का झुंगवा कट के पास भारतीय स्टेट बैंक का ग्राहक सेवा केंद्र कई वर्षों से संचालित होता है। इस केंद्र पर दो कर्मचारी भी काम करते हैं। बुधवार की शाम को करीब सवा सात बजे संचालक संतोष तिवारी अपने दो कर्मियों के साथ बैठकर दिनभर में ग्राहक सेवा केंद्र में हुए लेन-देन का हिसाब कर रहे थे। बताया जा रहा है कि इसी दौरान चार बाइक से छह नकाबपोश बदमाश ग्राहक सेवा केंद्र के सामने पहुंचे। बदमाशों ने संचालक समेत दोनों कर्मचारियों के सिर पर असलहा सटा दिया और जान से मारने की धमकी देते हुए रुपये मांगने लगे। इसमें से एक बदमाश ने संचालक संतोष तिवारी की जेब से साढ़े तीन लाख रुपये नकद और दूसरे बदमाश ने ग्राहक सेवा केंद्र के काउंटर से एक लाख पचास हजार रुपये निकाल लिए। इस वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश अपने-अपने बाइक पर सवार होकर हेतिमपुर की तरफ असलहा लहराते व फायरिंग करते हुए भाग निकले। हालांकि पुुलिस फायरिंग की पुष्टि नहीं कर रही है। बदमाश अपने साथ ग्राहक सेवा केंद्र में लगे सीसीटीवी कैमरे का डीबीआर को लेकर चले गए। इस संबंध में कसया थाने के प्रभारी एसओ शर्मा सिंह यादव ने बताया कि लूट की घटना सामने आई है। पुुलिस छानबीन में जुुटी है। बदमाशों का पता लगाया जा रहा है।

एडीजी जोन ने घटना स्थल का किया निरीक्षण

जल्द खुलाशा करने का दिया निर्देश

अपर पुलिस महानिदेशक अखिल कुमार, गोरखपुर, जोन गोरखपुर द्वारा कसया क्षेत्रान्तर्गत ग्राहक सेवा केन्द्र पर हुई लूट के घटनास्थल का निरीक्षण किया तथा पीड़ित से लूट के सम्बंध में गहनता से जानकारी की गयी। अपर पुलिस महानिदेशक द्वारा घटित घटना का शीघ्र अनावरण करते हुए अभियुक्तों की गिरफ्तारी एवं लूटी गयी सम्पत्ति की बरामदगी हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गए। घटनास्थल के निरीक्षण के दौरान पुलिस अधीक्षक कुशीनगर, प्रशिक्षणाधीन पुलिस उपाधीक्षक, प्रभारी निरीक्षक पटहेरवा, प्रभारी थाना कसया एवं प्रभारी स्वाट व सर्विलांस आदि टीमें उपस्थित रहीं।