असंगठित कर्मकारों का ई-श्रम कार्ड बनाना सुनिश्चित करें: जिलाधिकारी

 | 
असंगठित कर्मकारों का ई-श्रम कार्ड बनाना सुनिश्चित करें: जिलाधिकारी

अवधनामा संवाददाता

सहारनपुर। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने कहा कि ई-श्रम पोर्टल पर असंगठित क्षेत्रों के कामगारों का अधिक से अधिक पंजीकरण कराया जाए। उन्होने कहा कि इससे संबंधित विभिन्न विभाग अपने लक्ष्यों को योजनाबद्ध ढंग से ग्राम स्तर पर पूरा कराना सुनिश्चित करें।

अखिलेश सिंह कलेक्ट्रेट सभागार में असंगठित कामगारों के ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण के लिए विभिन्न विभागीय अधिकारियों तथा श्रमिक संगठनों के पदाधिकारियों की बैठक के दौरान यह निर्देश दिए। उन्होने कहा कि असंगठित कामगारों के पोर्टल पर पंजीकरण की प्रक्रिया एवं पात्रता तथा असंगठित कर्मकारों की श्रेणी जैसे फल विक्रेता, सब्जी विक्रेता, डेरी कर्मकार, दुकानों पर कार्य करने वाले कामगार, रिक्शा चालक, हाथ ठेला चलाने वाले कर्मकार, माली, नाई गृह आधारित, स्वनियोजित अथवा असंगठित क्षेत्र में कामगार प्रवासी कागमार, गिग व प्लेटफार्म वर्कर आंगनबाडी, आशा वर्कर, मनरेगा वर्कर, कृषि कामगार, मछुआरा, ट्रक चालक, निर्माण श्रमिक आदि कुल 156 प्रकार के असंगठित कर्मकारों को कॉमन सर्विस सेन्टर के माध्यम से अथवा स्वयं     ई- श्रम पोर्टल ूूूण्मेीतंउण्हवअण्पद पर अपना निःशुल्क पंजीकरण कराया जाना सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी ने कृषि, स्वास्थ्य, मनरेगा, आंगनबाडी, एनअरएलएम विभाग को निर्देशित किया कि वे अपने विभागों से सम्बन्धित लक्ष्यों को योजनाबद्ध ढंग से ग्राम स्तर तक पूरा कराया जाना सुनिश्चित करें तथा ब्लाक स्तर पर लोगों को जागरूक करते हुए व्यापक प्रचार-प्रसार करायें। उन्होने कहा कि शत-प्रतिशत असंगठित कर्मकारों का ई- श्रम कार्ड बनाना एवं उनकी सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित की जा जाए।

बैठक में परियोजना निदेशक देवेन्द्र प्रताप, उप श्रमायुक्त शक्ति सैन मौर्य, अपर नगर आयुक्त  रवीश चन्द्र, जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती आशा त्रिपाठी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अम्बरीश कुमार, सहायक श्रमायुक्त अभिषेक सिंह, श्रम प्रवर्तन अधिकारीगण तथा टैक्सी यूनियन से रणजीत सिंह आदि उपस्थित रहे।