आबादी में शीर्ष ओलंपिक पदक में निम्न ,खिलाड़ियों में इच्छाशक्ति की कमी - उज्जवल रमण सिंह

 | 
 आबादी में शीर्ष ओलंपिक पदक में निम्न ,खिलाड़ियों में इच्छाशक्ति की कमी - उज्जवल रमण सिंह

अवधनामा संवाददाता


प्रयागराज । पूर्व कैविनेट मंत्री विधायक उज्जवल रमण सिंह ने अरैल मैदान पर दौड़ प्रतियोगिता का शुभारंभ कर पुरस्कार वितरण किया जिसमें 1500 मीटर दौड़ में प्रथम पुरस्कार शैलेश कुशवाहा, द्वितीय पुरस्कार साहिल व तृतीय पुरस्कार दूधनाथ प्राप्त किया। मुख्य अतिथि ने खिलाड़ियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश की आबादी 26 करोड़ और पदक हरियाणा जैसे छोटे छोटे प्रदेश जीतते हैं उसी तरह देश की आबादी 126 करोड़ और ओलंपिक में हम लोग एक दो स्वर्ण पदक पर ही संतोष करते हैं जबकि छोटे छोटे कम जनसंख्या वाले देश हमसे बहुत अधिक पदक जीतने हैं।उन्होंने कहा कि सरकारी व्यवस्था के ही खिडकियों की इच्छाशक्ति की कमी भी भारत को ज्यादा पदक जीतने में बाधक हैं जो जुनून विदेशी खिलाड़ियों में होती हैं पदक जितने की ललक ही उनका और उनके देश का नाम रोशन करते हैं कि लिए मै खिलाड़ियों से आग्रह करूँगा कि पदक जीतने का जुनून अपने अंदर पैदा करें जिससे प्रदेश व देश का नाम रोशन हो।
अतिविशिष्ट अतिथि सपा जिलाउपाध्यक्ष विनय कुशवाहा ने कहा कि अखिलेश सरकार में खिड़कियों को प्रोत्साहित करने का बहुत कार्य हुआ सम्मान के साथ नकद प्रोत्साहन राशि दिया गया, लखनऊ में विश्व स्तरीय इकाना स्टेडियम का निर्माण कराया योगी सरकार ने सिर्फ नाम बदला यह सोच हैं योगी सरकार मे खिलाड़ियों को गंगा यात्रा, कावंड यात्रा और मंदिर मस्जिद में ही उलझाए रखा इससे देश प्रदेश की उन्नति कहा होगी।प्रतियोगिता का संचालन कृपा शंकर बिंद साथ में पप्पू इसराइल, राजेश यादव, विजय बहादुर पटेल,कोमल यादव, विमल निषाद, सुरेश सर,शिव यादव, मोहित यादव,सुनील पाल आदि रहे।