जनचौपाल लगाकर सुनी ग्रामीणों की समस्यायें

अधिकारियों को दिये समय से कार्य पूरा करने के निर्देश

 | 
जनचौपाल लगाकर सुनी ग्रामीणों की समस्यायें

अवधनामा संवाददाता

ललितपुर। मण्डलायुक्त झांसी मण्डल डा.अजय शंकर पाण्डेय ने विकास खण्ड तालबेहट अन्तर्गत आदर्श ग्राम पंचायत पवा के उच्च प्राथमिक विद्यालय में जनचौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना तथा ग्राम पंचायत में कराये गए विकास कार्यों का निरीक्षण किया। इस अवसर पर स्टॉल लगाकर विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। यहां पर मण्डलायुक्त ने ग्राम की विकासपरक योजनाओं की समीक्षा कीसाथ ही मौके पर उपस्थित लोगों से उनका मौखिक सत्यापन भी कराया। मनरेगा की समीक्षा में बताया गया कि 16 परिवारों को 100 दिन से अधिक का रोजगार प्रदान किया गया है। स्वच्छ शौचालय के निर्माण के तहत बताया गया कि शौचालय के पश्चात उनकी देखरेख समूह की महिलाओं द्वारा की जा रही है। इस पर मण्डलायुक्त ने ग्राम प्रधान को शौचालयों के प्रयोग की निगरानी करने के लिए निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने स्वच्छ शौचालयों का अधिक से अधिक प्रयोग करने की अपील की तथा स्वच्छ शौचालय का प्रयोग न करने वालों को चिन्हित करने तथा उन्हें शौचालयों के उपयोग हेतु प्रेरित करने के लिए सामाजिक समूह गठित करने के निर्देश ग्राम प्रधान को दियेसाथ ही कहा कि शौचालयों का प्रयोग हो रहा है या नहींइसका पाक्षिक आधार पर प्रमाण पत्र भी देना होगा। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन की समीक्षा के दौरान सम्बंधित अधिकारी द्वारा बताया गया कि ग्राम पंचायम में 12 समूह गठित किये गए हैंप्रत्येक समूह को 15 हजार का रिवॉल्विंग फण्ड दिया गया है। इसके साथ ही यहां 01 समूह सखी व 01 ग्राम संगठन भी है। इस पर डी0सी0 एन0आर0एल0एम0 को निर्देशित किया गया कि समय-समय पर स्वयं सहायता समूहों के कार्यों की समीक्षा करते रहें। जन चौपाल में मण्डलायुक्त ने ग्रामीणों को कोविड से बचने हेतु जागरुक करते हुए सतर्क रहने के साथ ही मास्कसोशल डिस्टेंसिंग सहित बचाव के उपाय तथा शत-प्रतिशत कोविड टीकाकरण कराने का आह्वान किया। पेंशन योजनाओं की समीक्षा के दौरान बताया गया कि ग्राम पंचायत में वृद्धावस्था पेंशन के 351, विधवा पेंशन के 68 तथा दिव्यांग पेंशन के 27 लाभार्थी हैंजिन्हें पेंशन योजनाओं का लाभ मिल रहा है। इस पर आयुक्त ने निर्देश दिये कि तीनों प्रकार की पेंशनों के नये पात्र लाभार्थियों का चयन किया जाएपेंशन की धनराशि सरकार द्वारा 1000 प्रतिमाह कर दी गई है। विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान बताया गया कि ग्राम पंचायत विद्युतीकृत हैयहां पर 240 पोल, 22 ट्रांसफार्मर व 490 कनेक्शनधारक हैं। ग्राम में 18 घण्टे विद्युत आपूर्ति की जा रही है। इस पर आयुक्त महोदय ने कहा कि वर्तमान में ओटीएस योजना संचालित हैंइस योजना के तहत विद्युत बिल सम्बंधी समस्याओं का निस्तारण किया जाता है। उन्होंने अधि0 अभि0 विद्युत को निर्देश दिये कि ग्राम पंचायत में कैम्प लगाकर सभी कनेक्शनधारकों को इस योजना से आच्छादित करें। खाद्यान वितरण की समीक्षा में बताया गया कि ग्राम में 1031 राशनकार्डधारक हैंजिन्हें शासन के निर्देशानुसार समय पर खाद्यान्न का वितरण किया जा रहा है। शिक्षा विभाग की समीक्षा में बताया गया कि ग्राम पंचायत में 07 विद्यालय संचालित हैंसभी विद्यालयों में छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैंसभी विद्यालयों में कायाकल्प का कार्य कराया गया हैइसके अलावा सभी विद्यालयों में बाउंड्रीवॉल भी बनायी गई है। महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा में बताया गया कि ग्राम पंचायत में 04 आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित हैंदो केन्द्रों पर आंगनबाड़ी कार्यकत्री तैनात हैं तथा दो केन्द्र रिक्त चल रहे हैं। इसके साथ ही स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा ग्राम पंचायत में ड्राई राशन वितरण का कार्य किया जा रहा है। पेयजल योजनाओं के सत्यापन में बताया गया कि ग्राम पंचायत में 76 हैण्डपंप कार्यरत हैंइस पर निर्देश दिये गए कि ऐसे हैण्डपंप जो बार-बार खराब होते हैं उन्हें चिन्हित कर उनकी मरम्मत करायें। मौके पर स्वयं सहायता समूहों के महिलाओं ने अवगत कराया कि समूह को 100 प्रतिशत अनुदान पर जो ट्रेक्टर उपलब्ध हुआ हैवह कृषि कार्य हेतु ही उपयोग होता हैशेष समय उसका प्रयोग नहीं होता हैइस पर मण्डलायुक्त ने निर्देश दिये कि गठित समूहों को साल भर आमदनी का स्रोत बनेइसके लिए कार्ययोजना बनाएं। इस संबंध में परियोजना निदेशक ने अवगत कराया कि इसके लिए लोक निर्माण विभाग से अनुबंध करा दिया जाएगाजिससे उक्त ट्रेक्टर कृषि कार्यों से बचे समय में उपयोग होने के साथ ही आमदनी का स्रोत बना रहेगा। जनचौपाल के दौरान मण्डलायुक्त ने विद्यालय परिसर में अतिरिक्त कक्ष का उद्घाटन किया तथा स्मार्ट क्लास का भी शुभारंभ किया। स्मार्ट क्लास हेतु जिलाधिकारी के आह्वान पर बजाज पावर प्लांट की ओर से एल0सी0डी0/स्मार्ट टीवी उपलबध करायी गई। इसके साथ ही विद्यालय के नजदीक खेल मैदान में भूमिपूजन कर शिलान्यास भी किया। विभागीय कार्यों की समीक्षा के उपरान्त मण्डलायुक्त ने चौपाल को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस ग्राम पंचायत में विकास कार्यों को लेकर प्रशासन जागरुक है। इस ग्राम में स्पष्ट रुप से आदर्श ग्राम के रुप में कार्य कराये जा रहे हैं। सम्पर्क मार्ग में गड्ढे की मरम्मत करायी जायेग्राम में यदि ऐसे व्यक्ति शेष हैं जो पात्र हैं व उनका शौचालय नहीं बना हैउनका चिन्हांकन कर शौचालय बनवाये जायें। इसके साथ ही पंचायत सेकेट्री शौचालय निर्माण की जांच करें। शौचालय निर्माण के उपरान्त लाभार्थियों को शौचालय के प्रयोग के लिए प्रेरित भी किया जाए। इसके लिए ग्राम प्रधान ग्राम सामाजिक समूह का गठन करायें। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी आलोक सिंह सहित मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार पाण्डेयअपर आयुक्त प्रशासन प्रमिल कुमार सिंहसंयुक्त विकास आयुक्त मिथलेश सचानअधि.अभि.विद्युत सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित रहे

तहसील पाली निरीक्षण

भ्रमण कार्यक्रम के दौरान मण्डलायुक्त ने तहसील पाली का निरीक्षण भी कियायहां पर मण्डलायुक्त ने भवन निर्माण में कमियों की तकनीकि रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिये। संग्रह एवं भूलेख लेखाकार को तहसील में तैनात करने के साथ ही अभिलेखीय पत्रावलियों को व्यवस्थित रखने के निर्देश अपर जिलाधिकारी एवं उप जिलाधिकारी पाली को दिये।