नही थम रहा है अपराधो का सिलसिला

 | 
नही थम रहा है अपराधो का सिलसिला 

अवधनामा संवाददाता 

मोहम्मदी-खीरी (Mohammadi Kheri)। एक तरफ प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ अपराध रोकने की बात करते हैं परन्तु जनपद में अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहे है। रोजाना क्षेत्र में कहीं ना कहीं कोई न कोई घटनाएं घटित होती ही रहती है।  ताज़ा मामला कोतवाली पसगवां की पुलिस चौकी महमदपुर ताजपुर क्षेत्र के मियांपुर गांव का है। जहां पर एक अनुसूचित जाति के युवक की हत्या कर दी गई है। परिजनों ने बताया कि बीती रात गांव का एक युवक आया और छोटे को अपने साथ बुला ले गया। छोटे अपने साथ पल्सर बाइक, मोबाइल व कुछ पैसे भी लेकर गया था। जब छोटे घर वापस नहीं आया तो परिजन छोटे को तलाश करने लगे उसी दौरान परिजनों को कसरावल रोड पर छोटे का शव पड़ा होने और पास में ही बाइक खड़ी होने की जानकारी मिली थी। घटना स्थल पर पहुंचकर परिजनों द्वारा घटना की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये जिला मुख्यालय भेज दिया। परिजनों ने बताया कि उनकी गांव के ही रूस्तम, धर्मवीर, गुडडू व प्रताप से रंजिश चल रही थी और कई बार यह लोग छोटे के साथ मारपीट करके जान से मारने की धमकी भी दी चुके थे और आखिर दबंगों द्वारा अपनी दी जा रही धमकियो अंजाम दे ही डाला। मृतक छोटे मेहनत मजदूरी करके अपने परिवार का पालन पोषण करता था। मृतक के पत्नी व चार बच्चे हैं जिसमें मोहित 15, नीरज नौ, रोहित तीन व सबसे छोटा पुत्र सोहित एक वर्ष का है। परिजन जब तहरीर देने महमदपुर ताजपुर चौकी गये तो महमदपुर ताजपुर चौकी प्रभारी अनेक पाल सिंह ने तहरीर लेेने से मना कर दिया और पीड़ित परिजनों को चौकी से भगा दिया। उसके पश्चात परिजनों ने जिम्मेदार अधिकारियों को फोन पर सूचना देनी चाही लेकिन किसी अधिकारी के फोन नहीं उठे। सीओ मोहम्मदी से बात करने की कोशिश की तो उनका फोन भी रिसीव नहीं हुआ। जिससे परिजनों में भारी रोष है। महमदपुर ताजपुर पुलिस चौकी प्रभारी अनेक पाल सिंह हमेशा तानाशाही वालेे रवैये के चलते अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। इस परिस्थितियों में आखिर कब मिलेगा गरीबों को न्याय। योगी के आदेशों को पसगवां पुलिस नहीं मानती है।