पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के जन्मदिवस पर आयोजित हुआ "किसान सम्मान दिवस"

25 किसानों को माल्यार्पण,अंग वस्त्र एवं प्रशस्ति पत्र दे कर किया गया सम्मानित

 | 
पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के जन्मदिवस पर आयोजित हुआ "किसान सम्मान दिवस"

अवधनामा संवाददाता 


अयोध्या ।आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज ,अयोध्या के द्वारा स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह (भूतपूर्व प्रधानमंत्री) के 119वीं   जनशताब्दी के अवसर पर "किसान सम्मान दिवस" का आयोजन आज दिनांक 23 दिसंबर 2021 को माननीय कुलपति जी की अध्यक्षता चिकित्सा महाविद्यालय के ऑडिटोरियम में किसानो को सम्मानित कर समारोह आयोजित किया गया। विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ बिजेंद्र सिंह ने किसान दिवस के अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की , और कहा कि किसानों के प्रति उनके समर्पण को सदैव याद किया जाएगा । वे जीवन भर गांव और किसानों के प्रति समर्पित रहे, जिसके लिए सदैव उनका स्मरण किया जाएगा । उन्होंने बताया कि वह हमेशा कहा करते थे कि देश की खुशहाली का रास्ता खेतों से होकर जाता है, यानी भारत की प्रगति तब होगी जब देश का किसान प्रगतिशील होगा, भारत में समृद्धि तब आएगी, जब  किसान समृद्धिशाली होगा । क्योंकि कृषि प्रधानता ही भारत की अर्थव्यवस्था का आधार है।

कार्यक्रम के आयोजक निदेशक प्रसार डॉ ए पी राव ने कहा कि किसान मसीहा पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह की यादें और बातें किसानों के दिल में है। जिक्र छोड़ते ही सियासत में ईमानदारी के लिए चौधरी चरण सिंह का नाम किसान सबसे पहले लेते हैं हर किसान की पीड़ा को अपनी पीड़ा समझते थे चकबंदी कानून से लेकर गांव-गांव खोले गए शिक्षण संस्थानों से उन्होंने शिक्षा की अलख जगाने का कार्य भी किसानों के लिए किया था ईमानदारी से कार्य करने और भ्रष्टाचार का खात्मा करने की सीख देते थे।

इस अवसर पर  पूर्वाचंल  के विभिन्न जनपदों के लगभग 200 किसानों ने भाग लिया, कृषि के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने वाले 25 कृषकों को मधुमक्खी पालन, जैविक खेती, फसल अवशेष प्रबंधन, मछली पालन, आलू उत्पादन, मशरूम उत्पादन, मसाला खेती, स्ट्राबेरी,अमरूद आदि की खेती में उत्कृष्ट कार्य हेतु  माल्यार्पण व अंग वस्त्र के साथ प्रमाण पत्र देकर,  कुलपति डॉ बिजेंद्र सिंह ने सम्मानित किया ।  कुलपति डाँ सिंह ने वैज्ञानिकों को निर्देश दिया कि किसानों की आय दोगुनी करने हेतु गुणवत्तापूर्ण उत्पादन के साथ-साथ कृषि लागत को कम करने में किसानों को तकनीकी जानकारी प्रदान करें ।डाँ सीता राम मिश्रा,डाँ आर आर सिंह ,डाँ राम जीत,डाँ आर के सिंह आदि ने तकनीकी खेती की जानकारी देते हुइ स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह द्वारा किसानों के हित में चलाए गए कार्यक्रमों की चर्चा करते हुए आधुनिक परिवेश में एकीकृत कृषि प्रणाली अपनाने की सलाह दी एवं संगठित होकर खेती करने पर बल दिया। 

विश्वविद्यालय के मीडिया प्रभारी डॉ अखिलेश कुमार सिंह ने बताया कि अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय डॉ वेद प्रकाश,  अधिष्ठाता कृषि वानिकी एवं उद्यान  डा ओ पी राव एवं समस्त विभागाध्यक्ष , कृषि विज्ञान केंद्र के अध्यक्ष व विश्वविद्यालय के  वैज्ञानिक  एवं कर्मचारियों ने भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह  के जन्म दिवस पर किसानों के हित में कृषि तकनीकी को दूरदराज तक के गांवो मे किसानों तक पहुंचाने के लिए दृढ संकल्प लेते हुए भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह के जीवन पर प्रकाश डाला । कार्यक्रम का संचालन कर रहे डाँ एस के वर्मा  ने चौधरी चरण सिंह के जीवन वृतांत  पर प्रकाश डाला व अंत में धन्यवाद ज्ञापन देते हुए डाँ एस एन लाल ने  कार्यक्रम को सफल बनाने में  प्रसार निदेशालय के डाँ आर आर सिंह,डाँ शशांक सिंह, डाँ हेमंत सिंह, प्रदीप पाण्डेय,एकता सिंह, पल्लवी पाण्डेय, श्री अमरनाथ सिंह , श्री  शैलेंद्र कुमार सिंह,ओम प्रकाश सिंह, उमाशंकर पाण्डेय एवं अन्य द्वारा  किए गए योगदान  एवं  कार्यक्रम में पधारे  समस्त  निदेशक अधिष्ठाता  वरिष्ठ  अधिकारियों आदि का धन्यवाद ज्ञापित किया ।