चौधरी चरण सिंह की जयंती के मौके पर हमीरपुर में मनाया गया किसान सम्मान दिवस

 | 
चौधरी चरण सिंह की जयंती के मौके पर हमीरपुर में मनाया गया किसान सम्मान दिवस

    अवधनामा संवाददाता (हिफजुर्रहमान) 

हमीरपुर : उपनिदेशक कृषि हरि शंकर भार्गव ने बताया कि आज   स्व० चौधरी चरण सिंह  भूतपूर्व प्रधानमंत्री (भारत सरकार) की जयंती के शुभ अवसर पर जनपद स्तरीय किसान सम्मान दिवस एवं किसान मेला / प्रदर्शनी / गोष्ठी, फल / शाक भाजी-शो का आयोजन राजकीय महिला महाविद्यालय हमीरपुर में किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ  जिलाधिकारी डॉ चंद्र भूषण ने फीता काटकर किया । कार्यक्रम का शुभारंभ करने के पश्चात जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी व उपायुक्त स्वतः रोजगार  के साथ कार्यक्रम का  स्टालों का निरीक्षण किया गया।
इस दौरान जिलाधिकारी डा० चन्द्र भूषण ने कृषकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसान भाई अन्नदाता है वह देश की अर्थव्यवस्था के कर्णधार है उनके लिए किसान सम्मान दिवस का आयोजन महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। उन्होने अपील किया कि कृषक भाई उन्नत तकनीकी का प्रयोग करके अपनी आमदनी बढ़ा सकते है। साथ ही उन्होने कहा कि कोरोना काल में सभी कार्यालय, कम्पनियां बंद रही किन्तु किसान भाइयों द्वारा कृषि कार्य निरन्तर करते हुए देश की आर्थिक स्थिति में सहयोग प्रदान किया गया। उन्होने बताया कि जनपद में संचालित विभिन्न योजनाओं को आप तक पंहुचाने के लिए विकास खण्ड स्तर एवं जनपद स्तर पर गोष्ठियां का आयोजन कर प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। उन्होने बताया कि डी०ए०पी० यूरिया सहकारी समितियों एवं अन्य अधिकारियों के प्रयास से कृषकों को उपलब्ध करायी जा रही हैं तथा नलकूप विद्युत नहरों आदि को ठीक कराकर टेलों तक पानी पहुंचाने का कार्य भी किया जा रहा है। अन्त में उन्होने कहा कि कृषकों द्वारा दलहन, तिलहन, पशुपालन इत्यादि क्षेत्रों में अच्छा कार्य करने पर सभी किसान भाइयों को बधाई दी।

मुख्य विकास अधिकारी कमलेश कुमार वैश्य ने मा० स्व० चौधरी चरण सिंह जी को नमन करते हुए मंच पर उपस्थित एवं अन्य किसान भाइयों का अभिनन्दन किया । उन्होने कहा कि कृषको के सहयोग के बिना किसी भी योजनाओं को पूर्ण नहीं किया जा सकता। सभी योजनाओं के समाधान हेतु सभी विभागों के दरवाजे खुले हुए हैं आप सभी अपनी समस्याओं को सम्बन्धित विभाग से सम्पर्क कर समाधान करा सकते हैं।

इसके अतिरिक्त कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक उद्यान विभाग, पशुपालन एवं मत्स्य विभाग द्वारा विभाग में संचालित योजनाओं एवं उत्पादन तथा उत्पादकता बढ़ाने के लिए नई तकनीक से कृषकों को अवगत कराया गया। किसान सम्मान दिवस के अवसर पर प्रत्येक विकास खण्ड में 5-5 कृषकों को शाल प्रमाण पत्र  एवं 2000-2000 रू0  वितरित किये गये तथा जनपद मुख्यालय पर 15 प्रथम एवं 15 द्वितीय कुल 30 विभिन्न कृषकों को प्रथम, द्वितीय पुरुस्कार के रूप में शाल प्रमाण पत्र के साथ क्रमशः रू0 7000 एवं 5000 रू0 की धनराशि का वितरण किया गया। उक्त कार्यक्रम के आयोजन में विभिन्न विभागों के रोचक एवं महत्वपूर्ण स्टाल लगाकर कृषकों को आवश्यक जानकारी उपलब्ध करायी गयी।
   कार्यक्रम का संचालन डा० जी०के० द्विवेदी एवं धन्यवाद ज्ञापन हरीशंकर भार्गव उप कृषि निदेशक द्वारा किया गया।