कप्तानगंज चीनी मिल ने साढ़े तीन करोड़ रुपये भुगतान किया

किसान हित में निरन्तर काम कर रही कप्तानगंज चीनी मिल- फारूकी

 | 
कप्तानगंज चीनी मिल ने साढ़े तीन करोड़ रुपये भुगतान किया

अवधनामा संवाददाता

कुशीनगर। दी कनोरिया चीनी मील कप्तानगंज के गन्ना महाप्रबंधक के0 ए0 फारूकी ने किसान हितों का ध्यान रखते हुये विगत पेराई सत्र 2021 का बकाया भुगतान 6 जनवरी तक साढ़े तीन करोड़ रुपये किसानों के खाते में भेजा है। इसके साथ ही सभी किसानों को पर्ची प्राथमिकता के आधार पर भेजी जा रही है जिससे किसानो में खुशी की लहर है।   

बुधवार को भुगतान करने के दौरान गन्ना महा प्रबंधक के0 ए0 फारूकी ने क्षेत्र के किसानों से अपील करते हुआ कहा कि कप्तानगंज चीनी मील किसानों के हित में सदैव काम करती आ रही है। यही कारण है कि पिछले वर्ष का जो बकाया था उसका भुगतान बारी-बारी से किश्तों में भेजा जा रहा है। इसके साथ ही प्राथमिकता के तहत पर्ची भेजी गयी है जो भी किसान छुटे है उनको सर्वे के हिसाब से पर्ची भेजी जा रही है। उन्होंने ने समस्त किसानों से अपील करते हुआ कहा कि अपना गन्ना चीनी मिल को ही दे, माफियाओं के चक्कर में न पड़े। औने-पौने दामों से बेचने से अच्छा है कि अपना गन्ना अपने क्षेत्र के चीनी मिल को दे। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जो भी गन्ना मुल्य भुगतान के लिए आदेश हुआ है उसका पालन किया जा रहा है। गन्ना आयुक्त द्वारा पेराई सत्र 2021-22 आवंटित किए गए चीनी मिल गेट/क्रय केंद्रों जिसमें सेखुई, बिहारी छपरा, पड़रही, चखनी, भूमिहारी पट्टी, कोटवा बी, कंठी छपरा, पनियहवा का कुशल संचालन और गन्ने के उठान एवं खरीद व्यवस्था तथा चीनी मिल गेट पर भी चीनी मिल प्रबंधन द्वारा कृषक भाइयों के लिये पानी विश्रामगृह क्रमवार तौल इत्यादि से किसान खुश हैं। अगर किसी भी किसान को पर्ची या भुगतान को लेकर कोई दिक्कत हो तो हमे अवगत करावे त्वरित कार्यवाही होगी।