जल शक्ति मंत्री ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा

 | 
जल शक्ति मंत्री ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा 

अवधनामा संवाददाता 

गोरखपुर।(Gorakhpur) महेंद्र सिंह जल शक्ति मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार भारी बारिश व बाढ़ से गोरखपुर में बड़े नदियों के जलस्तर से लोगों में दहशत का माहौल लगभग दो लाख लोग हुए प्रभावित गोरखपुर सोनौली मार्ग भी हुआ प्रभावित जल शक्ति मंत्री गोरखपुर में मीडिया से बात किया और कहा कि खतरे के निशान से दो से 2.5 फीट बढ़ा है नदियों का जलस्तर और 181 गांव प्रभावित हैं।एनडीआरएफ एसडीआरएफ व डाक्टरों की टीम भी मुस्तैद है राहत पैकेज का भी इंतजाम है।

गोरखपुर शहर में एक तरफ जहां बीते कई दिनों से हुई भारी बारिश ने तबाही मचाई गोरखपुर शहर के कई मोहल्ले जलमग्न हो गए तो वहीं नदियों का जलस्तर भी तेजी से बढ़ा और खतरे के निशान के पार बहने लगी। लाखों लोग बाढ़ की चपेट में हैं तो दूसरी तरफ नेपाल और उत्तराखंड में हुई ओलावृष्टि से नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है । इस समय गोरखपुर जिले में रोहनी, राप्ती, सरयू आदि नदियां खतरे के निशान से 2 से ढाई फीट ऊपर बह रही हैं ग्रामीण मंदिर पर शरण लिए हैं । जिला प्रशासन और आपदा प्रशासन ने बाढ़ से बचाव के पुख्ता इंतजाम भी किए हैं । 

शासन के निर्देश पर उत्तर प्रदेश सरकार में जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह गोरखपुर पहुंचे हैं इस दौरान बाढ़ से बचाव को लेकर जिले के सभी अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक किया। 

गोरखपुर के एनेक्सी भवन में बैठक के बाद जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह प्रेस वार्ता किया इस दौरान उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार कल से मैं गोंडा बलरामपुर सिद्धार्थनगर से होते हुए गोरखपुर आया हूं उन्होंने कहा कि नेपाल और उत्तराखंड में हुई ओलावृष्टि जिसके कारण से सभी नदियों का जलस्तर काफी बड़ा सरयू पिछले 39 दिनों से खतरे के निशान से ऊपर बह रही है राप्ती 25 दिन से रोहित 25 दिन से खतरे के निशान से ऊपर बह रही है

सभी नदियां लगभग खतरे के निशान से ऊपर हैं 2 से 2.5 फीट तक खतरे के निशान से ऊपर हैं जिसके कारण बहुत से सारे गांव में पानी चला गया है हमारे गोरखपुर के सातों तहसील से 20 ब्लॉक में कुल 181 गांव ऐसे हैं जो नदियों के जलस्तर बढ़ने से प्रभावित हुए हैं उसमें जो पापुलेशन प्रभाव का क्षेत्र आया है उसमें लगभग 198000 लोग गिरे हुए हैं कुछ गांव ऐसे हैं जिसमें चारों तरफ से पानी है कुछ गांव ऐसे जिसमें तीन तरफ से कुछ दो तरफ से गांव गिरे हुए हैं

जल शक्ति मंत्री ने कहा कि इसमें हमारी जो 33 बाढ़ चौकियां बनाई गई 333 नाव लगाए गए हैं 22 स्टीमर लगाए गए हैं दो एनडीआरएफ की कंपनी है ।