सूखे का प्रकोप झेल रहे बुन्देलखण्ड में हर घर पहुंचेगा पानी : मण्डलायुक्त

ग्राम कालापहाड़ के लागौन में समूह पेयजल योजना का किया निरीक्षण

 | 
ग्राम कालापहाड़ के लागौन में समूह पेयजल योजना का किया निरीक्षण

अवधनामा संवाददाता 

ललितपुर (Lalitpur)। मण्डलायुक्त अजय शंकर पाण्डेय ने अपने भ्रमण कार्यक्रम के तहत जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर जल योजना से आच्छादित कालापहाड़ स्थित लागौन ग्राम समूह पेयजल योजना का निरीक्षण किया, साथ ही ग्राम में चौपाल लगाकर विकास कार्यों एवं जनकल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा की। प्रत्येक घर में शुद्ध पेयजल की उपलब्धता हेतु सरकार ने जल जीवन मिशन के तहत हर घर जल योजना का शुभारंभ किया है। लम्बे समय से सूखे का प्रकोप झेल रहे बुन्देलखण्ड को पेयजल की समस्या से निजात दिलाने एवं इस क्षेत्र के विकास के लिए सरकार कई महत्वाकांक्षी योजनाएं संचालित कर रही है, जिसमें एक हर घर जल योजना भी है, जिसके भौतिक सत्यापन हेतु आज मण्डलायुक्त ने ग्राम लागौन का निरीक्षण किया। पेयजल योजना के निरीक्षण में बताया गया कि राज्य पेयजल एवं स्वच्छता मिशन, नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर जल योजना के तहत ग्राम लागौन को लागौन ग्राम समूह पेयजल योजना से आच्छादित किया गया है। योजना की कुल लागत रु0 146.86 करोड़ (कार्य की लागत रु0 129.25, अनुरक्षण की लागत रु0 17.6) है। इस योजना का कार्य जून 2020 में प्रारंभ किया गया था, जो 2022 में पूर्ण होगा। इस योजना से यहां के 51 गांव लाभान्वित होंगे। इस पेयजल योजना का कार्य जल निगम द्वारा कराया जा रहा है। मौके पर मण्डलायुक्त ने परियोजना के निर्माण में प्रयुक्त होने वाले उपकरणों की क्रियाशीलता की जांच करते हुए निर्देश दिये कि सभी उपकरणों का संचालन अनुभवी विशेषज्ञ द्वारा ही किया जाये, साथ ही परियोजना के कार्य में गुणवत्ता एवं मानक का पूरा ध्यान रखा जाये, इसमें किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाये। इसके उपरान्त मण्डलायुक्त ने कालापहाड़ पंचायत भवन में चौपाल के माध्यम से विकास कार्यों एवं जनकल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा की। खाद्यान्न वितरण की समीक्षा के दौरान पूर्ति निरीक्षक द्वारा बताया गया कि ग्राम में सभी पात्र लाभार्थियों को नियमित रुप से खाद्यान्न का वितरण किया जाता है। इस पर निर्देश दिये कि खाद्यान्न वितरण में किसी भी प्रकार की घटतौली की शिकायत प्राप्त होते ही कार्यवाही करें। मौके पर स्वयं सहायता समूह की अध्यक्षा द्वारा बताया गया कि खाद्यान्न वितरण में एक माह में समूह को 05 हजार रुपये का लाभ हुआ है। प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा में बताया गया कि ग्राम की पटरानी सहरिया,माखन, रामकिशोर एवं जमना सहरिया सहित 12 लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिला है, साथ ही जिन लोगों के आवास बनाये गए हैं, उनके शौचालय भी बनाये गए हैं। इस पर निर्देश दिये गए कि ग्राम में अन्य पात्र व्यक्तियों को भी आवास योजना का लाभ दिलाया जाये। मौके पर ग्राम समूह की महिलाओं द्वारा बताया गया कि सामूहिक शौचालय के रखरखाव एवं प्रबंधन हेतु 6000 रु0 एवं आवश्यक साधन के रुप में 3000 रु0 प्रतिमाह प्राप्त होता है। पेंशन योजनाओं की समीक्षा के दौरान बताया गया कि ग्राम में 68 लोगों को वृद्धावस्था पेंशन, 34 महिलाओं को निराश्रित महिला पेंशन तथा 18 लाभार्थियों को विकलांग पेंशन प्राप्त हो रही है। इस पर मण्डलायुक्त ने निर्देश दिये कि ग्राम में कैम्प लगाकर तीनों पेंशनों के लाभार्थियों का सत्यापन करें, साथ ही नये लाभार्थियों का पंजीकरण कराकर योजना का लाभ दिलायें। इसके उपरान्त स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान मण्डलायुक्त ने कोविड टीकाकरण की प्रगति की जानकारी ली, जिस पर बताया गया कि ग्राम में 290 परिवार निवास करते है, यहां पर एमओआईसी के सहयोग से सभी ग्रामवासियों का टीकाकरण किया जाएगा। इस पर मण्डलायुक्त ने निर्देश दिये कि ग्राम में कैम्प लगाकर सभी का टीकाकरण कराना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि ग्राम में सभी पात्र व्यक्तियों का जॉबकार्ड बनाकर उन्हें काम दिया जाये, जिससे उन्हें अपने ग्राम में ही रोजगार प्राप्त हो सके। मौके पर मण्डलायुक्त ने उपस्थित ग्रामवासियों को स्वच्छता के प्रति जागरुक करते हुए स्वच्छता संदेश दिया। उन्होंने कहा कि सभी ग्रामवासी अनिवार्य रुप से शौचालय का प्रयोग करें, साथ ही सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ लें। उन्होंने उप जिलाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को पात्रता के अनुसार आवास योजना का लाभ दिलायें तथा ग्राम में अवैध कब्जों के मामलों में अनिवार्य रुप से आवश्यक कार्यवाही करें। इस अवसर पर जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार, सीडीओ, एडीएम नमामि गंगे, ईई जल निगम सहित अन्य सम्बंधित अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।