बाजार को टूटने से बचाने के लिए इंद्र प्रताप खब्बू तिवारी के प्रयास ने रंग दिखाना किया शुरू

 | 
बाजार को टूटने से बचाने के लिए इंद्र प्रताप खब्बू तिवारी के प्रयास ने रंग दिखाना किया शुरू

अवधनामा संवाददाता

अयोध्या। गोसाईगंज कस्बे को जाम से निजात दिलाने व बाजार को टूटने से बचाने के लिए इलाकाई विधायक इंद्र प्रताप खब्बू तिवारी के प्रयास ने रंग दिखाना शुरू कर दिया। मालूम हो कि शासन ने पुरानी गोसाईगंज कस्बे को बचाने के लिए साढ़े पांच किलोमीटर लंबे बाईपास निर्माण के लिए स्वीकृति प्रदान करते हुए करोड़ो रुपए अवमुक्त कर दिया हैं। अब बाइपास बनाने के लिए शासन स्तर पर भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई तेज होने के साथ ही लोक निर्माण विभाग ने टेंडर प्रक्रिया को अमली जामा पहनाने की कार्रवाई भी शुरू कर दी है। कार्यवाही के तहत राममहर ग्राम सभा अचकवापुर से पीडब्ल्यूडी अधिकारी प्रशांत यादव बीके तिवारी, मुन्ना प्रसाद विनोद विश्वकर्मा, आशुतोष अवस्थी, पकरेला ग्रामसभा के लेखपाल मधुराम शर्मा लेखपाल पुनीत सिंह के देखरेख में नापजोख की प्रक्रिया शुरू हो गई है वही गोसाईगंज नगर पंचायत से जा रहे फोरलेन सड़क बाईपास की मांग कर रहे गोसाईगंज नगर क्षेत्र के व्यापारी गण वा विधायक खब्बू तिवारी के अथक प्रयास से बाई पास होने का 100% सपना सहकार हो गया जिसकी नाप जोक शुरू हो गई जिसमें 25 मीटर बंदा साढ़े 12 मीटर बंधा छोड़कर 140 फीट उत्तर साइड में नाप जोख शुरू हो चुका है। कुछ लोगों में निराशा है वही अधिकांश लोगों में खुशी हुई है। वही वही बाईपास जाने से लगभग दो दर्जन से अधिक मकान गिरने की भी संभावना है। गोसाईगंज नगर के व्यापारियों व नगर वासियो के अनुसार अगर यह 22 बाईपास गोसाईगंज होकर जाता तो लगभग सैकड़ों मकान दोस्त हो जाता बाजार से कितने लोग बेरोजगार हो जाते गोसाईगंज बाजार उजड़ने से बच गया। इसका सारा श्रेय विधायक खब्बू तिवारी के अथक प्रयास से हुआ है। वहीं दूसरी तरफ गोसाईगंज नगर के सैकड़ों लोग बाईपास के लिए अयोध्या के लोकप्रिय सांसद लल्लू सिंह के से भी मुलाकात किया था जिसमें सांसद लल्लू सिंह ने कहा कि गोसाईगंज नगर वासियों से प्रेम एवं स्नेह का ऐसा संगम रहा कि वह गोसाईगंज नगर क्षेत्र के लोगों की मांग को पूरा करने में हर संभव प्रयास करने की बात कही और उन्होंने नगर के क्षेत्रवासियों एवं व्यापारियों को कहां की अगर बाईपास का रास्ता है, तो गोसाईगंज नगर पंचायत से ना जाकर बाईपास होकर ही सड़क जाएगी।बाईपास निर्माण से करीब एक लाख की आबादी को सीधा लाभ मिलेगा।पीडब्लूडी अधिकारियों के मुताबिक कस्बे में बाईपास की प्रक्रिया तेजी से शुरू हो गई है।बाईपास के लिए सिंचाई विभाग का जो बंधा है वह जमीन बाईपास सड़क बनाने के लिये ठीक नहीं है। वह जमीन दलदल हैं। सिंचाई विभाग के पीडब्लूडी विभाग के जेई बीके तिवारी ने बताया कि 25 मीटर का बंधा है। जो साढ़े 12 मीटर छोड़कर 39 मीटर उत्तरी क्षेत्र में लिया जा रहा है। जिसमें गोसाईगंज के भीटी रोड़ मड़हापुल स्थिति हनुमानगढ़ी मंदिर को हटाकर मंदिर को दूसरी जगह स्थापित करने की बात कही है। भीटी रोड स्थित सहदेव वर्मा  का मकान आधा जा सकता है। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पूरा मामला दो सप्ताह के अंदर लोगों को क्लियर हो जाएगा। उत्तरी छोर पर जिनकी जमीन बाईपास फोरलेन सड़क बनाने के लिए जा रहा है उन सभी को लगभग 15 दिन बाद सारी प्रक्रिया पूरी होने पर नोटिस मिलना शुरू हो जाएगा। पीडब्लूडी के अधिकारी ने बताया कि बंधे से जो एलाइनमेंट हम लोगो को मिला है 35 मीटर भूमि लोक निर्माण विभाग बाईपास बनाने के लिए अधिग्रहण करेगी।

इस मौके पर गोसाईगंज नगर से दर्जनों व्यापारी सांसद लल्लू सिंह को ज्ञापन दिया इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के  वरिष्ठ नेता प्रदीप जायसवाल, शेखर जायसवाल नामित सभासद अवधेश स्वर्णकार, बजरंग चौरसिया,रामफुल कसौधन, वाले,विजय लोहा, ओमप्रकाश सोनी,श्री प्रकाश जायसवाल, रामेश्वर कसौधन, जगदीश जायसवाल, बबलू सोनी, रविंद्र जायसवाल अनिल कसौधन, राजेश तिवारी आदि व्यापारी शामिल रहे।