नारी सशक्तिकरण कार्यक्रम में महिलाओं को समाज में सम्मानित तरीके से जीने के सुझाव दिए गए

 | 
नारी सशक्तिकरण कार्यक्रम में महिलाओं को समाज में सम्मानित तरीके से जीने के  सुझाव दिए गए

अवधनामा संवाददाता

अतरौलिया /आजमगढ़। बूढ़नपुर तहसील क्षेत्र अंतर्गत जलालपुर महाबल पट्टी गांव में  संचालित हिंद डिफेंस एकेडमी के तत्वावधान में नारी सशक्तिकरण कार्यक्रम के तहत महिलाओं को समाज में सम्मानित तरीके से जीने के लिए विभिन्न सुझाव दिया गया। अपने संबोधन में महिला कांस्टेबल अंशिका श्रीवास्तव ने कहा कि नारी को सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक ,प्रशासनिक जीवन जीने के लिए संघर्ष करना चाहिए। आज के समय में नारी समाज में किसी भी मायने में पीछे नहीं हैं। चाहे वह खेल का क्षेत्र हो , या फिर शिक्षा या सुरक्षा-व्यवस्था आदि से संबंधित क्षेत्र हो । कल्पना चावला से लेकर मदर टेरेसा और झांसी की रानी लक्ष्मीबाई तक का इतिहास आप देख सकती हैं। इन्होंने यहां इस कार्यक्रम में शामिल युवतियों का आह्वान किया कि वे किसी भी हालत में अपने आप को कमजोर न समझे। अराजक तत्वों द्वारा पनपी संकट के समय एक सौ बारह व दस नब्बे पर काल करें पुलिस जल्द से जल्द वहां पहुंच जायेगी।थाना प्रभारी देवानंद ने कहा कि महिलाओं और लड़कियों की सुरक्षा के लिए पुलिस हमेशा तत्पर रहती है।  बस सूचना सही समय पर मिलनी चाहिए । इन्होंने कहा कि झूठी व किसी को अनर्गल फंसाने की मानसिकता से बचना चाहिए। सूचना सही होनी चाहिए। पुलिस आप के साथ है। एकेडमी के मुख्य संचालक पूर्व फौजी राजेश सिंह पुलिस विभाग का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर महिला कांस्टेबल दुर्गेश कुमारी  , कांस्टेबल पंकज यादव ,कांस्टेबल नित्यानंद सिंह ,  पूर्व फौजी अजय सिंह , पूर्व फौजी शम्भाराव जी पटेल सहित भारी संख्या में युवतियां व छात्राएं मौजूद रहीं।