आरक्षित बोगी में वेटिंग टिकट वाले यात्रियों की भीड़ जबरदस्त

आरक्षित टिकट यात्री पूरी रात जग कर कर रहे हैं यात्रा*। 

 | 
आरक्षित बोगी में वेटिंग टिकट वाले यात्रियों की भीड़ जबरदस्त* 

अवधनामा संवाददाता 

 देवरिया दिल्ली से चलकर कटिहार, दरभंगा, सीतामढ़ी जाने वाली ट्रेनों में वेटिंग टिकट धारी स्लीपर क्लास में इस तरह यात्रा कर रहे हैं जैसे किसी माल गोदाम में खाद की बोरियां रखी हुई हों। आरक्षित टिकट यात्री अपनी सीट पर पहुंच पाने में असमर्थ हो रहे हैं । यदि वह अपने सीट पर पहुंच भी रहे हैं तो उन्हें बैठने के लिए जगह नहीं मिल पा रही है । आदमी इस तरह चढ़े हुए हैं कि किसी को बाथरूम जाना हो या अगले स्टेशन पर उतरना हो तो समस्या पैदा हो जा रही है। ट्रेनों में यात्रा के दौरान इस तरह की कठिनाई न सिर्फ रेलवे की कुव्यवस्था की पोल खोल रही है बल्कि टीकाकरण के बाद भी सरकार जो यह बार-बार घोषणा कर रही है कि अभी भी समुचित दूरी और मास्क का प्रयोग जरूरी है , तब ऐसी अवस्था में ट्रेन की यात्रा बीमारी भी पैदा कर सकती है। एन. ई. रेलवे के मैरवा रेलवे स्टेशन पर अमृतसर से चलकर कटिहार को जाने वाली आम्रपाली स्पेशल ट्रेन आज ज्यों ही प्लेटफार्म नंबर दो पर खड़ी हुई , एक महिला को अपने सामान के साथ उतरने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। उसने मुझे यह बताया की पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर कल 5:15 बजे शाम को मैं इस ट्रेन में चढ़ पाने में असमर्थ थी । मेरे सीट पर पहले से वेटिंग वाले यात्री बैठे थे । वहां तक पहुंचने में मुझे 15 मिनट लगे । मुझे अस्थमा की शिकायत है । मुझे सांस लेने की दिक्कत होने लगी ।ट्रेन चलने के काफी देर के बाद मुझे राहत मिली । उसने उदास मन से कहा कि सरकार बुलेट ट्रेन जाने की बात कर रही है लेकिन जो सामान्य ट्रेनें हैं उसमें इस कदर अव्यवस्था फैली है यात्रा करना दूभर हो गया है ।