स्नातक विधायक प्रतिनिधि लगाया विद्युत विभाग पर किसानों के उत्पीड़न का आरोप

 | 
स्नातक विधायक प्रतिनिधि लगाया विद्युत विभाग पर किसानों के उत्पीड़न का आरोप

अवधनामा संवाददाता

ललितपुर। इलाइट चौराहा स्थित विद्युत वितरण खण्ड द्वितीय (ग्रामीण) में भ्रष्टाचार फैले होने का आरोप लगाते हुये स्नातक विधायक प्रतिनिधि विजय सिंह यादव ने एक ज्ञापन जिलाधिकारी के नाम एसडीएम सदर डा.संतोष उपाध्याय को सौंपा है। ज्ञापन में बताया कि इस समय फसलों की बुआई का कार्य चल रहा है। जिसके लिए किसान को खादबीज पानी आदि की जरूरत है। चूँकि डीजल इस समय किसान की हैसियत से बहुत ऊपर जा चुका है ऐसे 95 प्रतिशत किसान यह कोशिस कर रहा है कि उसे बिजली मिल जाए ताकि वह सिंचाई कर सके और सैकड़ों किसानों ने विद्युत कनेक्शन के लिए अधिशाषी अभियंता विद्युत वितरण खंण्ड द्वितीय (ग्रामीण) के यहाँ आवेदन किया हुआ है। तथा सामान हेतू पैसे लिए घूम रहे हैं। परन्तु कार्यालय में फैले भ्रष्टाचार और उदासीनता के कारण पूरा पैसा देने के बाद भी लोगों को कनेक्शन नहीं दिए जा रहे हैं और उन्हें परेशान किया जा रहा है शोषण किया जा रहा है। प्रतिदिन सैकड़ों किसान अपनी खेतीबाडी छोड़कर भूखे प्यासे महीनों से कार्यालय पर डेरा डाले हुए हैं। जिन्हें रोज कल का बहाना बनाकर चलता कर दिया जाता है। ऐसे ही एक किसान उत्तम सिंह तनय कढोरे निवासी झरावटा (मड़ावरा) हैं जिनका कि आवेदन भाई के नाम से है। महीनों से रोज 100 किलोमीटर चलकर ललितपुर आ रहे हैं। इनके स्टीमेट पर जे ई त्रिलोकि सिंह जानबूझकर हस्ताक्षर नहीं कर रहे और आफिस वाले कह रहे कि हस्ताक्षर करा कर लाओ तभी काम आगे बडेगा रोज यही हो रहा है। वहीं देवीसिंह और जानकी निवासी तोर टपरियन का मात्र दो खंम्बो का कनेक्शन है लेकिन आफिस बाले पैसा जमा नहीं कर रहे। महीनों से पैसा लिए घूम रहे हैं। बताया कि दोनों कार्यालय अधिकारी जानबूझकर शासन की योजनाओं को पलीता लगा रहे हैं। आलम ये है कि केवल आते हैं और साईन करके गायव हो जाते हैं तथा बाबुओं से कह जाते हैं कि कोई पूछे तो बोल देना की बीमार हैं। वहीं पावर कार्पोरेशन उत्तर प्रदेश का साफ कहना है कि यदि कोई व्यक्ति नगद पैसा जमा कर रहा है तो उसे तुरंत कनेक्शन दिया जाए बिजली की कोई कमी नहीं है। स्नातक विधायक प्रतिनिधि ने जिलाधिकारी से संबंधितों पर कड़ी कार्यवाही करते हुए किसानों को शीघ्र संयोजन दिलाने की मांग उठायी है।