राज्यपाल ने स्वयं सहायता समूह को दिया एक करोड़ का सीसीएल चैक

साथ ही आंगनबाड़ी केन्द्रों को सुविधासम्पन्न बनाने हेतु 09 लाख 55 हजार

 | 
राज्यपाल ने स्वयं सहायता समूह को दिया एक करोड़ का सीसीएल चैक
अवधनामा संवाददाता

ललितपुर। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार प्रदेश की महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल का जनपद आगमन हुआ। इस अवसर पर पुलिस लाइन्स में उनका हैलीकॉप्टर उतरा, जहां जनपद के सभी आला अधिकारी उनके स्वागत के लिए मौजूद रहेे। इस अवसर पर उन्होंने सभी अधिकारियों से परिचय प्राप्त कर जनपद के विकास कार्यों पर संक्षिप्त वार्ता की। इसके उपरान्त उन्होंने पुलिस लाइन्स से राजकीय इण्टर कॉलेज के लिए प्रस्ताथान किया। जीआईसी सभागार में महामहिम राज्यपाल की प्रेरणा से बुन्देलखण्ड विश्व विद्यालय झांसी तथा कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय बांदा एवं जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वाधान में जनपद के आंगनबाड़ी केन्द्रों को सुविधा सम्पन्न बनाने हेतु आवश्यक वस्तुओं का वितरण समारोह आयोजित किया गया। राज्यपाल ने पहुंचकर सर्वप्रथम आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों एवं स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा लगाये गए विभिन्न स्थानीय उत्पादों के स्टॉलों का अवलोकन किया, तत्पश्चात माँ सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम में क्षेत्रीय सांसद अनुराग शर्मा, राज्यमंत्री मनोहरलाल, सदर विधायक रामरतन कुशवाहा, जिला पंचायत अध्यक्ष कैलाश निरंजन, नपाध्यक्ष रजनी साहू मौजूद रहे।

महामहिम राज्यपाल ने कहा कि आज आंगनबाड़ी के बच्चों के लिए आवश्यक वस्तुएं प्रदान की जा रही हैं, जिससे उन्हें विकसित होने में सहयोग मिलेगा। आंगनबाड़ी केन्द्रों पर गरीब बच्चे आते हैं, जिनके लिए पढऩा, बढऩा कठिन होता है, इसलिए हमारा यह दायित्व बनता है कि हम आंगनबाड़ी केन्द्रों पर ध्यान दें। समाज की ओर से जो मिलता है, उसका सदुपयोग आंगनबाड़ी में होना चाहिए। प्रधानमंत्री के निर्देशानुसार सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों को सुविधा सम्पन्न बनाने का कार्य किया गया, जिससे इन केन्द्रों पर बच्चों की संख्या बढ़ती जा रही है। सभी जनप्रतिनिधियों को आंगनबाड़ी केन्द्रों पर जाकर वहां की व्यवस्थाएं देखना चाहिए। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के 160 आंगनबाड़ी केन्द्रों को सशक्त बनाये जाने के लिए प्री स्कूल किटों का वितरण किया जा रहा है। कुपोषित बच्चों एवं महिलाओं को कुपोषण मुक्त करने के लिए जनपद में विभिन्न विभागों के कन्वर्जेन्स से पोषण अभियान संचालित किया जा रहा है। डीडीओ ने कहा कि जनपद में पोषण अभियान के तहत अब तक 19820 बच्चों को कुपोषण मुक्त किया जा चुका है। विधायक सदर रामरतन कुशवाहा ने कहा कि आज आपके मार्गदर्शन एवं मुख्यमंत्री के कुशल नेतृत्व में प्रदेश निरंतर प्रगति के पथ पर आगे बढ़ रहा है। कुलपति बुविवि झांसी ने कहा कि राज्यपाल द्वारा विश्वविद्यालयों को महिला एवं बाल विकास से जोडऩा एक अनूठी पहल है। क्षेत्रीय सांसद ने कहा कि हम सभी का सौभाग्य है कि राज्यपाल प्रदेश के अंतिम छोर पर ललितपुर पधारी हैं। इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष, राज्यमंत्री ने भी संबोधित किया। मौके पर आंगनबाड़ी केन्द्रों को सुविधा सम्पन्न बनाये जाने हेतु विशेष सहयोग प्रदान करने के लिए जनपद का अग्रणी बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, बजाज एनर्जी (ललितपुर पावन जनरेशन कम्पनी लिमिटेड) एवं अन्य सहयोगियों को प्रतिनिधियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।