पंचायती राज मंत्री को सम्बोधित पांच सूत्रीय मांग पत्र डीएम को सौंपा

23 नवंबर को लखनऊ में होने वाली रैली को सफल बनाने पर  किया गया चर्चा
 
 | 
पंचायती राज मंत्री को सम्बोधित पांच सूत्रीय मांग पत्र डीएम को सौंपा

अवधनामा संवाददाता 

आजमगढ़। उप्र पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ की बैठक मंगलवार को रैदोपुर  स्थित कार्यालय पर जिलाध्यक्ष बसंत कुमार बौद्ध की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसमें मांगे न पूरी होने पर प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर 23 नवंबर को लखनऊ में होने वाली रैली को सफल बनाने पर चर्चा किया गया। इसके बाद संघ ने बाइक रैली निकालकर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, पंचायती राज मंत्री को सम्बोधित पांच सूत्रीय मांग पत्र जिलाधिकारी को सौंपा। जिलाध्यक्ष बसंत कुमार बौद्ध ने कहाकि कर्मचारियों की पांच सूत्रीय मांग पत्र कई वर्षों से लम्बित है। सरकार और विभाग उसका निस्तारण नहीं कर रहा है। प्रदेश के 1.8 लाख सफाई कर्मचारी समय समय पर आंदोलन कर जिला प्रशासन के माध्यम से शासन को पत्र भेजे लेकिन प्रदेश सरकार अपने हठधर्मिता के आगे नहीं सुन रही। उन्होने कहाकि सफाई कर्मचारी अपने हक की लड़ाई के लिए संघर्ष को तैयार है। जिला महामंत्री ओंकार नाथ ने कहाकि सफाई कर्मचारियों का उत्पीड़न किसी भी प्रकार संघ बर्दाश्त नहीं करेगा। पांच सूत्रीय मांगों को लेकर 23 नवंबर को लखनऊ में रैली का आयोजन किया गया है। जिसमें जिले के सभी कर्मचारी भाग लेंगे। उन्होने मांग किया कि पंचायती राज विभाग में कार्यरत् सभी कर्मचारियों की विभागीय सेवा नियमावली बनाई जाय और सफाई कर्मचारियां की पदोन्नति की जाय। सफाई कर्मचारियों का पदनाम पंचायत सेवक कर इनको प्रधान के नियंत्रण से मुक्त किया जाय। साथ ही कर्मचारियों के हित में पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू किया जाय। इस मौके पर राजेन्द्र चौहान, रामप्यारे, सुरेश गौतम, संजय, रामआशीष, दिल मोहम्मद, उमाकान्त, भीमराज, अशोक कुमार, जयविजय, विधाता, जयप्रकाश, प्रदीप कुमार, सुमेश कुमार, देवराज चौहान, संतोष कुमार िंसह, मंजीत यादव, बृजेश सिंह पटेल आदि मौजूद रहे।