जिला अस्पताल के नवनिर्मित ऑक्सीजन प्लांट में शार्ट सर्किट से लगी आग, 155 बेडो में था कनेक्शन

कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रशाद मौर्या ने विधायक निधि से दिए थे प्लांट लगाने के पैसे, 24 सितम्बर को हुआ था लोकार्पण

 | 
जिला अस्पताल के नवनिर्मित ऑक्सीजन प्लांट में शार्ट सर्किट से लगी आग, 155 बेडो में था कनेक्शन 

अवधनामा संवाददाता 


कुशीनगर। जिला मुख्यालय रविन्द्र नगर स्थित संयुक्त जिला चिकित्सालय के ऑक्सीजन प्लांट में बुद्धवार की शाम आग लग गयी जिसकी वजह शार्ट सर्किट बताई जा रही है। आग लगने की सूचना मिलते ही मौके पर पहुची दमकल विभाग की टीम ने आग पर काबू पा लिया जिससे किसी को कोई नुकसान नही हुआ। 

बता दें कि जिला अस्पताल में विधायक निधि से लगाये गए ऑक्सीजन प्लांट में अचानक आग लग गयी। इस प्लांट से जिला अस्पताल के पी2 वार्ड के 25 बेड़ो और एल. टू. अस्पताल के लगभग 130 बेड़ो पर मरीजो को ऑक्सीजन सप्लाई का कनेक्शन जोड़ा गया हैं। गनीमत यह रही कि जिन बेड़ो पर मरीज थे उनपर ऑक्सीजन प्लांट के बन्द होते ऑटोचेंज पैनल द्वारा ऑक्सीजन सिलेंडरो द्वारा सप्लाई चालू हो गयी जिससे मरीजो को कोई दिक्कत नही हुआ। आप को बता जिले के सदर विधायक और उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने कोरोना महामारी की दूसरी लहर में उपजे ऑक्सीजन संकट को देखते हुए अपने विधायक निधि से एक करोड़ रुपए जिला प्रशासन को देखकर जिला अस्पताल में इस ऑक्सीजन प्लांट लगाने पहल की थी। 500 लीटर प्रति मिनट की उत्पादन क्षमता के इस ऑक्सीजन प्लांट के लोकार्पण अभी तीन महीने भी पूरे नही हुए।

संयुक्त जिला चिकित्सालय के ऑक्सीजन प्लांट में आग लगने की सूचना मिलते ही मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. एस के वर्मा मौके पर पहुचे और स्थिति जानी। डॉ. वर्मा ने बताया कि एल.2 अस्पताल में लगे ऑक्सीजन प्लांट में शाट शर्किट के कारण आग लगी। जहां ऑक्सीजन प्रोडक्शन होता है वह मशीन जल गयी हैं कम्प्रेशन बचा हुआ है। ऑक्सीजन प्लांट के इंजीनियर को बुलाया जाएगा तभी पता चलेगा कि कितने दिनों में पुनः चालू होगा। हालाकि हमारे पास दूसरा ऑक्सीजन प्लांट और सिलेंडर की व्यवस्था है जिससे मरीजो को कोई दिक्कत नही होगी।