किसानों को आधुनिक तकनीक से खेती की दी गई जानकारी

 | 
किसानों को आधुनिक तकनीक से खेती की दी गई जानकारी

अवधनामा संवाददाता 
 

आजमगढ़। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या के अधीन कृषि विज्ञान केंद्र कोटवा पर संचालित डीबीटी बायोटेक किसान हब परियोजनान्तर्गत गुरूवार को फार्मर्स साइंटिस्ट्स कनेक्ट मीट में 50 से अधिक कृषि उद्यमी/किसानों ने प्रतिभाग किया। उक्त कार्यक्रम का आयोजन जैव प्रौद्योगिकी विभाग व भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद नई दिल्ली के संयुक्त तत्वावधान में आनलाइन माध्यम से किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में केन्द्रीय मंत्री, विज्ञान एवं तकनीकी मंत्रालय (स्वतंत्र प्रभार), भारत सरकार जीतेन्द्र सिंह उपस्थित रहे। उन्होंने किसानों को सम्बोधित करते हुए बताया कि खेती बाड़ी का काम अब हमारे युवाओं को आकर्षित करने लगी है। उन्होंने बायोटेक किसान हब परियोजना को लघु एवं सीमान्त किसानों के लिए अत्यन्त हितैषी बताते हुए वैज्ञानिक उपलब्धि व वैज्ञानिक खेती दोनों के समन्वय की आवश्यकता बताई। प्रतिभाग कर रहे किसानों को परियोजना के मुख्य हब राष्ट्रीय कृषि उपयोगी सूक्ष्म जीव ब्यूरो कुसमौर मऊ द्वारा विकसित कृषि अवशेषों का सूक्ष्मजीव आधारित त्वरित कम्पोस्ट बनाने के बारे में जानकारी दी गई तथा सभी प्रतिभागियों को केन्द्र पर स्थापित सूक्ष्मजीव आधारित त्वरित कम्पोस्टिंग इकाई का अवलोकन कराया गया। जनपद में संचालित विभिन्न कृषि महाविद्यालयों से भी बड़ी संख्या में छात्र आनलाइन माध्यम से उक्त कार्यक्रम में जुड़ कर कृषि की आधुनिक तकनीक की जानकारी प्राप्त किए।