इंजीनियर मोहम्मद अनवर को उत्तर प्रदेश फ़ख़रुद्दीन अली अहमद मेमोरियल कमेटी में शामिल किए जाने पर कमल देवबंदी ने जताई खुशी।

 | 
इंजीनियर मोहम्मद अनवर को उत्तर प्रदेश फ़ख़रुद्दीन अली अहमद मेमोरियल कमेटी में शामिल किए जाने पर कमल देवबंदी ने जताई खुशी।

अवधनामा संवाददाता (एच एफ़ ख़ान)

देवबंद(Deoband)हिंदी लेखक कमल देवबन्दी ने उत्तर प्रदेश फ़ख़रुद्दीन अली अहमद मेमोरियल कमेटी में देवबन्द से इंजीनियर मोहम्मद अनवर को शामिल किए जाने पर ख़ुशी का इज़हार किया है और उम्मीद जताई है कि वह कमेटी में रहकर जनपद सहारनपुर के उर्दू तबक़े की भरपूर नुमाईंदगी करेंगे।

सोमवर अपने एक बयान में कमल देवबंदी ने कहा कि उर्दू साहित्य में देवबन्द का योगदान अमूल्य और यादगार है जिसकी मिसाल क़स्बे स्तर पर कम ही मिलती है। गत 100 वर्षों में इस छोटे क़स्बे से 100 के क़रीब उर्दू समाचारपत्र-पत्रिकाओं का प्रकाशन हो चुका है। यहां के लेखकोंसमीक्षकोंविचारकोंशायरों ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपना लोहा मनवाया है। गत सदी से अब तक उर्दू के हज़ारों सिपाही दारुल उलूम देवबंद से तय्यार होकर निकलें हैंजो अपनी अमूल्य सेवाएं दे रहे हैं। कमल देवबन्दी ने आशा व्यक्त की मोहम्मद अनवर अपनी प्रतिभा से देवबन्द उर्दू साहित्य और लेखकोंपत्रकारों,शायरों को उचित सम्मान दिलाएंगे।।

उनको कमेटी में शामिल किए जाने पर उर्दू अध्यापक मोहम्मद असद,नजम अहमद,मनसर अज़ीम,शाह फैसल मसुदी,तौसीफ अहमद क़ुरैशी,अब्दुल्ला उस्मानी,मोहम्मद सरवर,ख़ुर्शीद अहमद,शेहला परवीनगुलशन अंसारी,मोहम्मद उस्मान,नोशाद अर्शी,शाईस्ता परवीनसबीहा अफ़ज़ाल,ज़ैनब ज़ुबैरीकहकशां अंजुम,रूबी,नय्यर उल इस्लाम और शादाब खान ने प्रदेश के मुखिया श्री योगी आदित्यनाथ का आभार प्रकट किया है।